ग्वालियर के विकास के लिए मैं हमेशा लगा रहूंगा – केंद्रीय मंत्री श्रीमंत सिंधिया

Scn news india

मनोहर

ग्वालियर शहर के विकास का मानचित्र मेरे मन में है और जब भी मैं किसी कार्य में मन से लगता हूं तो फिर उसे अधूरा नहीं छोड़ता। ग्वालियर के विकास के लिए चेंबर ऑफ कॉमर्स ने जो भी मांगा है मैंने वह भी दिया और जो नहीं भी मांगा है वह भी मैंने दिया है। शहर विकास के लिए जितनी भी मांगे मेरे समक्ष आई हैं उसमें से जो संभव है वह तो मैं करूंगा ही और जो असंभव है उनके लिए भी मैं लगातार प्रयास करूंगा। उक्त आशय के विचार केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गुरुवार को चेंबर ऑफ कॉमर्स में आयोजित स्वागत वंदन अभिनंदन कार्यक्रम में व्यक्त किए।
चेंबर ऑफ कॉमर्स के सभागार में आयोजित स्वागत वंदन कार्यक्रम के शुभारंभ में चेंबर के पदाधिकारियों ने अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बताया कि यदि मन में शहर विकास के लिए एवं प्रगति के लिए इरादे नेक हो तो कोई भी असंभव कार संभव हो जाता है। उन्होंने कहा कि मेरे परिवार ने हमेशा शहर के लोगों के विकास की चिंता की है और लोगों का विश्वास जीता है। उन्होंने कहा कि ग्वालियर में अनेक संभावनाएं हैं ग्वालियर चंबल के विकास के लिए वह हर संभव प्रयास करेंगे।
उन्होंने कहा कि ग्वालियर शहर की यातायात समस्या के निराकरण के लिए प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युमन सिंह तोमर ने हमें एलिवेटेड रोड बनाने का सुझाव दिया था, अब ग्वालियर  में स्वर्ण रेखा नाले के ऊपर एलिवेटेड रोड बनेगी जिसकी लागत 1000 करोड़ रुपए होगी। इसके साथ ही शहर के पानी की समस्या के निराकरण के लिए चंबल से पानी लेकर आएंगे तथा शहर के पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ढाई सौ करोड़ रुपए की लागत से ग्वालियर का रेलवे स्टेशन अत्याधुनिक होगा। इसके साथ ही शहर में 500 करोड़ रुपए की लागत से अत्याधुनिक हवाई अड्डा भी बनाने की पूरी तैयारी हमने कर ली है। हम निरंतर ग्वालियर शहर के विकास के लिए प्रयासरत रहेंगे।
केंद्रीय मंत्री श्री सिंधिया ने कहा कि आज मुझे बहुत गर्व महसूस हो रहा है कि मेरे पुत्र श्रीमंत महा आर्यमन सिंधिया का शहर ग्वालियर के प्रति लगाव है और वह ग्वालियर शहर के विकास के लिए चिंतित हैं।
इस अवसर पर युवराज श्रीमंत महा आर्यमन सिंधिया ने संबोधित करते हुए कहा कि मैं चाहता हूं कि मेरे ग्वालियर की पहचान पर्यटन के क्षेत्र में पूरे विश्व में हो लेकिन इसके लिए हम को खुद पहले अपने इतिहास के बारे में समझना होगा तथा अपने ग्वालियर को स्वच्छ ग्वालियर बनाना होगा तभी हम ग्वालियर को विश्व के नक्शे पर उभार सकेंगे। उन्होंने कहा कि मुझे मेरे परिवार ने हमेशा यही शिक्षा दी है कि हमें अपने शहर की प्रगति एवं विकास के लिए कार्य करना है।
प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युमन सिंह तोमर ने इस अवसर पर कहा कि आज हमें ग्वालियर के ऐसे लोगों का सम्मान करने की आवश्यकता है जो कि हमेशा ग्वालियर के विकास एवं प्रकृति के प्रति चिंतित रहते हैं। श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया ऐसे व्यक्तित्व हैं जो ग्वालियर और अंचल के विकास के लिए हमेशा तैयार रहते हैं।
कार्यक्रम के अंत में चेंबर के पदाधिकारियों द्वारा स्मृति चिन्ह प्रदान कर केंद्रीय मंत्री श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया का सम्मान किया।
कार्यक्रम के दौरान चेंबर के अध्यक्ष श्री विजय गोयल, मानसेवी सचिव श्री प्रवीण अग्रवाल, श्री पारस जैन, श्री प्रशांत गंगवाल, श्री बसंत अग्रवाल सहित अन्य पदाधिकारी एवं व्यापारी गण उपस्थित रहे।