सीवर लाइन प्लांट के लिए खोदे गए गड्ढे में डूबने से हुई दो बच्चों की मौत के मामले में हुई इंजीनियरों के खिलाफ एफआईआर

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव कटनी

कटनी जिले के कुठला बस्ती स्थित सीवर लाइन ट्रीटमेंट प्लांट के लिए खोदे गए गड्ढे में डूबने से हुई दो बच्चों की मौत के मामले में पुलिस ने केके स्पन कंपनी इंजीनियरों, कंसल्टिंग इंजीनियरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। पुलिस ने बताया कि नगर निगम आयुक्त द्वारा दी गई जानकारी और जांच में मिले साक्ष्यों के आधार पर केके स्पन इंडिया लिमिटेड फरीदाबाद (हरियाणा) के साइड इंजीनियर उदयभान मौर्य, नरोत्तम कुमार सिंह, पीडीएमसी एजिस इंडिया कंसल्टिंग इंजीनियर्स प्राइवेट लिमिटेड के फील्ड इंजीनियर अतुल गौतम के खिलाफ लापरवाहीपूर्वक कार्य कराने का मामला दर्ज किया गया है।

26 सितंबर को कुठला बस्ती निवासी रामदास बेन की 9 साल की बच्ची रिया उर्फ अस्सो और दिनेश बेन का 8 साल का कृष्णा सुबह करीब 7 बजे घर के पीछे खेल रहे थे। कुछ देर बाद जब दोनों बच्चे परिजनों को नहीं दिखे तो, उन्होंने उनकी खोजबीन शुरू की। घर के पीछे बने सीवर लाइन के प्लांट के गड्ढे के पास बच्चों की चप्पल दिखी। जिस पर गड्ढे में बच्चों की तलाश क्षेत्रिय लोगों द्वारा की जाने लगी। सूचना पर पुलिस नगर निगम की टीम भी पहुंची। लोहे के जाल को गड्ढे में डालकर बच्चों की खोजबीन शुरू की गई।

करीब चार घंटे तक चले रेस्क्यू में दोनों के शव को गड्ढे से बाहर निकाला गया। दोनों के शवों को पोस्टमार्टम कराया गया था पुलिस मर्ग प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच कर रही थी जिस पर कुठला पुलिस ने नगर निगम आयुक्त द्वारा दी गई जानकारी और जांच में मिले साक्ष्यों के आधार पर केके स्पन इंडिया लिमिटेड फरीदाबाद (हरियाणा) के साइड इंजीनियर उदयभान मौर्य, नरोत्तम कुमार सिंह, पीडीएमसी एजिस इंडिया कंसल्टिंग इंजीनियर्स प्राइवेट लिमिटेड के फील्ड इंजीनियर अतुल गौतम के खिलाफ लापरवाहीपूर्वक कार्य कराने का मामला दर्ज किया गया है।