महिला से अश्लील बात करने वाले 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड-पुलिस महकमे में हड़कम्प

Scn news india
 
अल्केश साहू 
 
♦महिला के पीडि़त पति ने घर टूटने की एसपी से की थी शिकायत
♦जांच में दोषी पाए गए एसआई, प्रधान आरक्षक सहित एक आरक्षक
♦ एसपी सिमाला प्रसाद की कार्यवाही से पुलिस महकमे में मचा हड़कम्प
बैतूल(ब्रह्मास्त्र) – एक महिला से अश्लील बातें करना एक सबइंस्पेक्टर, एक प्रधान आरक्षक सहित एक आरक्षक को महंगा पड़ गया। तीनों को महिला के पति की शिकायत पर पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद ने तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है। दरअसल महिला के पति ने शिकायत की थी कि उसकी पत्नी से यह तीनों लंबी-लंबी अश्लील बातें करते हैं जिससे उसका घर टूटने की कगार पर पहुंच गया है। एसपी ने महिला सेल से इस मामले की जांच करवाई जिसमें शिकायत सही पाए जाने पर तीनों के खिलाफ निलंबन की कार्यवाही की गई है। एसपी की इस कार्यवाही से पुलिस महकमेे में हड़कम्प मचा हुआ है।
यह तीन पुलिसकर्मी करते थे अश्लील बातें
प्राप्त जानकारी के अनुसार आमला थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम हसलपुर ठानी निवासी एक महिला से आमला थाने में पदस्थ उपनिरीक्षक अमित पंवार, कार्यवाहक प्रधान आरक्षक 128 बलराम सरयाम एवं आरक्षक 611 आदित्य बेले द्वारा फोन पर लंबी-लंबी अश्लील बातें की जाती थी। तीनों पुलिस कर्मियों द्वारा की जाने वाली अश्लील, अशोभनीय, अनर्गल एवं आपत्तिजनक बातचीत से महिला का पति काफी नाराज था। उसके घर में पति-पत्नी के बीच आए दिन विवाद हो रहा था।
पति ने की थी एसपी से शिकायत
महिला के पति ने तीनों पुलिसकर्मियों की लंबी-लंबी अश्लील बातों से परेशान होकर एसपी सुश्री सिमाला प्रसाद से तीनों की शिकायत की थी। शिकायत में पति ने बताया था कि उसकी पत्नी से तीनों पुलिसकर्मियों द्वारा की जाने वाली अशोभनीय और अनर्गल बातों से आए दिन घर में विवाद हो रहा है और घर टूटने की कगार पर पहुंच गया है। इस मामले में एसपी ने पीडि़त पति को कार्यवाही करने का आश्वासन भी दिया था।
महिला सेल से करवाई जांच निकली सच
पुलिस द्वारा जारी किए गए प्रेसनोट में उल्लेख किया है कि एसपी सुश्री सिमाला प्रसाद ने इस मामले की महिला सेल से जांच करवाई थी। जांच में पीडि़त पति की शिकायत सच पाई गई। तीनों पुलिसकर्मी पीडि़त पति की पत्नी से लंबी-लंबी अश्लील, अनर्गल एवं आपत्तिजनक बातें करते थे। महिला सेल द्वारा शिकायत सही पाए जाने पर जांच प्रतिवेदन पुलिस अधीक्षक को सौंपा।
एसपी ने तत्काल प्रभाव से तीनो को किया निलंबित
महिला द्वारा की गई जांच का प्रतिवेदन पुलिस अधीक्षक सुश्री सिमाला प्रसाद को प्राप्त होते ही उन्होंने तत्काल प्रभाव से पीडि़त पति की पत्नी से अश्लील, अनर्गल, अशोभनीय एवं आपत्तिजनक आचरण प्रदर्शित करना प्रमाणित पाए जाने पर पुलिस थाना आमला में पदस्थ उपनिरीक्षक अमित पवार, कार्यवाहक प्रधान आरक्षक 128 बलराम सरयाम एवं आरक्षक 611 आदित्य बेले तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाकर रक्षित केन्द्र बैतूल संबंद्ध किया गया है। एसपी की इस कार्यवाही से पुलिस महकमे में हड़कम्प मचा हुआ है।