तीन एएसआई सहित छह पुलिस कर्मी तत्काल प्रभाव से निलंबित, सटोरिए से संलिप्तता पड़ी भारी

Scn news india

रोहित नैय्यर ब्यूरो 

जबलपुर एसपी ने क्राइम ब्रांच में पदस्थ तीन एएसआई सहित छह पुलिस कर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। इन पुलिस कर्मियों पर पिछले दिनों मदनमहल क्षेत्र में पकड़े गए शातिर सटोरिए सूरज पटेल के साथ की संलिप्तता सामने आई है।

दरअसल आरोपी सूरज पटेल के जब्त मोबाइल में इन पुलिस कर्मियों की बातचीत का पूरी रिकॉर्डिंग मिली थी। अपराधी सूरज पटेल से संलिप्तता पाए जाने पर तत्काल प्रभाव से एएसआई राजेश शुक्ला, रमाकांत मिश्रा, विजय शुक्ला और प्रधान आरक्षक ज्ञानेंद्र पाठक, आनंद तिवारी और अजय यादव को निलंबित कर दिया। सभी को लाइन अटैच किया गया है।

एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा के मुताबिक पिछले दिनों मदनमहल क्षेत्र में शातिर बदमाश सूरज पटेल के यहां लाइन से बल भेजकर रेड कराई गई थी। एसपी के मुताबिक आरोपी सूरज पर 78 अपराध हैं। इसके यहां लोग लाइन लगाकर सट्‌टा लिखवा रहे थे। आरोपी सहित उसकी पत्नी फातिमा और 6 अन्य सट्‌टा लिखने वाले पकड़े गए थे। आरोपी सूरज के जब्त मोबाइल की रिकॉर्डिंग में इन 6 पुलिस कर्मियों की बातचीत रिकॉर्ड मिलने पर ये कार्रवाई की गई है। पुलिस कर्मियों पर लगे गंभीर आरोपों की जांच एएसपी सिटी एएसपी रोहित काशवानी को सौंपी गई है।

गोपाल खांडेल, एएसपी क्राइम ब्रांच जबलपुर

एकता चौक गंगासागर रोड अकबर का बाड़ा निवासी सूरज पटेल शातिर सटोरिया है। उसके घर शाम होते ही लोगों की लाइन लग जाती थी। एसपी के निर्देश पर 8 अक्टूबर की रात लाइन की स्पेशल टीम ने यहां दबिश दी तो लोगों लाइन लगे मिले। पुलिस को देख भगदड़ मच गई। पुलिस ने सूरज और उसकी पत्नी फातिमा-बी और 6 अन्य सटोरियों नीरज साहू, विनय बर्मन, हुसैन खान, राजेश केशरवानी, राकेश श्रीवास्तव, राहुल पटेल को गिरफ्तार किया था। उनके पास मौके से 8400 रुपए और लाखों रुपए के हिसाब-किताब की सट्‌टा-पट्‌टी जब्त हुई थी। सूरज पटेल मदनमहल थाने का निगरानी बदमाश है। जिस पर 78 अपराध दर्ज है जिस पर हत्या का प्रयास, लूट, बमबाजी, आर्म्स एक्ट, मारपीट, जुआ- सट्टा आदि के दर्ज हैं। इसमें 58 जहां मदनमहल में दर्ज है।

वहीं 20 प्रकरण गढ़ा थाने में दर्ज है। वही अन्य 20 लोगो के ट्रांसफर पर क्राइम ब्रांच एएसपी गोपाल खांडेल का कहना है की जो लोग क्राइम ब्रांच में लंबे समय से पदस्थ और संख्या से अधिक होने पर 20 कर्मियों को ट्रैफिक थाना मालवीय चौक ट्रांसफर किया है। पूरी तरह से प्रशासनिक आदेश है। त्यौहारों को देखते हुए ट्रैफिक में बल की जरूरत थी। क्राइम ब्रांच में जरूरत से अधिक संख्या हो गई थी। जिसके चलते एएसआई राजेंद्र बिलोहा, प्रधान आरक्षक मतुकेश पाटकर, दीपक तिवारी, सुग्रीव तिवारी, सत्यसेन यादव, अमीरचंद, अजय जैन, रूस्तम अली, अमित दुबे, अजय सोनकर, संतोष सिंह, आरक्षक रोहित द्विवेदी, रिव सागर, अनिल शर्मा, बलजीत, जितेंद्र दुबे, महेश कहार, बीरबल, शैलेंद्र कौरव व खुमान सिंह यातायात भेजा गया है।