पनागर के आश्रम में विवादित पुस्तकों के प्रकाशन पर फूटा अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के कार्यकर्ताओं का आक्रोश

Scn news india

रोहित नैय्यर ब्यूरो 

पनागर के आश्रम में विवादित पुस्तकों के प्रकाशन पर फूटा अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के कार्यकर्ताओं का आक्रोश..

आश्रम के समक्ष नारेबाजी कर पनागर थानाप्रभारी को सौपा ज्ञापन।

जबलपुर की पनागर तहसील के अंतर्गत आनेवाले संतरामपाल आश्रम में अंतरास्ट्रीय हिन्दू परिषद के कार्यक्रताओं ने जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान कई बार विवाद की स्थिति भी निर्मित होती सी प्रतीत हुई। हालांकि बाद में प्रशासनिक अधिकारियों के हस्तक्षेप से प्रदर्शन शांत करवाया गया। पूरा मामला हिंदू देवी देवताओं से जुड़ा हुआ है और आश्रम में संचालित कुछ गतिविधियों के चलते हिंदू भावनाएं आहत हो रही थी और इन्हीं तथ्यों को लेकर कार्यकर्ताओं ने आश्रम के सामने प्रदर्शन किया था

प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर स्थित संत रामपाल के नाम से संचालित हो रहे एक आश्रम में प्रकाशित हो रही पुस्तकों के माध्यम से हिंदू देवी देवताओं के बारे में विवादास्पद जानकारियां प्रचलित की जा रही थी। उपरोक्त विवादित पुस्तकों पर तत्काल रोक लगाने और आश्रम पर कार्यवाही करवाने के उद्देश्य से बड़ी संख्या में अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया और फिर थाना प्रभारी पनागर को एक लिखित ज्ञापन सौंपते हुए कार्यवाही की मांग की।

प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं का आरोप है कि यहां पर संत रामपाल नाम से आश्रम चलता है जिसमें कुछ विवादित किताबें प्रकाशित की जाती है जिसमें हिंदू देवी देवताओं को अपमानित किया जा रहा है और लोगों को गुमराह किया जाता है ताकि हिंदू देवी देवता को मानने से इंकार करें। बरहाल पुलिस द्वारा इस पूरे मामले की जांच किए जाने की बात कही जा रही है।

बाइट – प्रीति धनधरिया अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद प्रांत उपाध्यक्ष