कलेक्टर ने रेडक्रास की ओर से स्वास्थ्य विभाग को प्रदान किये जांच उपकरण

Scn news india

कामता तिवारी
संभागीय ब्यूरो रीवा
Scn news india

  • कलेक्टर ने रेडक्रास की ओर से स्वास्थ्य विभाग को प्रदान किये जांच उपकरण
  • महिलाओं के हीमोग्लोबिन तथा ब्लड सुगर की जांच अधिक कारगर होगी – कलेक्टर

रीवा -जिला रेडक्रास समिति स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार में लगातार सहयोग कर रही है। रेडक्रास समिति द्वारा स्वास्थ्य विभाग को 150 डिजिटल हीमोग्लोबिन जांच किट तथा 150 ग्लूकोमीटर उपलब्ध कराये गये हैं। कुशाभाऊ ठाकरे जिला चिकित्सालय में आयोजित कार्यक्रम में कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बीएल मिश्रा को जांच उपकरण प्रदान किये। डॉक्टरों का आत्मविश्वास बढ़ाने के लिये कलेक्टर ने नवीन उपकरणों से सबसे पहले स्वयं के हीमोग्लोबिन तथा ब्लड सुगर की जांच करवायी।

इस अवसर पर कलेक्टर ने कहा कि रेडक्रास जिले की स्वास्थ्य सुविधाओं के विकास के लिये लगातार प्रयास कर रहा है। इस क्रम में गर्भवती महिलाओं तथा किशोरी बालिकाओं के हीमोग्लोबिन एवं ब्लड सुगर की जांच के लिये डिजिटल उपकरण दिये जा रहे हैं। इससे मैदानी स्तर पर हीमोग्लोबिन तथा ब्लड सुगर की जांच अधिक कारगर होगी। समय पर खून की जांच न होने से कई बार गर्भवती महिलायें एनीमिया की शिकार हो जाती हैं। प्रसव के समय उनका स्तर हाई रिस्क हो जाता है। इससे माता तथा शिशु दोनों का जीवन संकट में पड़ जाता है। इन उपकरणों से समय पर जांच करके गर्भवती महिलाओं की पूरी जानकारी अनमोल पोर्टल पर दर्ज की जायेगी। जिससे उनकी सभी जांचे निर्धारित समय पर की जा सकें।

कलेक्टर ने कहा कि मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी मैदानी चिकित्सकों तथा चिकित्सा कर्मियों को उचित प्रशिक्षण देकर जांच उपकरण प्रदान करें। इन उपकरणों के उपयोग की लगातार मॉनीटरिंग करके हर माह रिपोर्ट प्रस्तुत करें। प्रत्येक गर्भवती महिला तथा किशोरी बालिका की समय पर जांच सुनिश्चित करें। कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि महिलाओं के हीमोग्लोबिन की जांच के लिय कार्ययोजना तैयार करके उसके अनुरूप समस्त कार्यवाहियां की जायेंगी। उन्होंने जिला रेडक्रास समिति को जांच उपकरण प्रदान करने के लिये धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर जिला रेडक्रास समिति के सचिव डॉ. विनोद श्रीवास्तव, डॉ. एके खान, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. बीके अग्निहोत्री, डीपीएम अर्पिता सिंह तथा अन्य चिकित्सा अधिकारी उपस्थित रहे।

कार्यक्रम के बाद कलेक्टर ने जिला अस्पताल परिसर में चल रहे विभिन्न निर्माण कार्यों का अवलोकन किया तथा निर्माण एजेंसी को समय सीमा में कार्य पूरा करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने जिला अस्पताल के प्रवेश द्वार के पास के दुकानदारों द्वारा दुकान के बाहर फुटपाथ पर सामग्री रखने पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने गुटखा बेचने वाले को फटकार लगाते हुए सामग्री हटाने के निर्देश दिये। सभी दुकानदारों को दुकान के अंदर से ही सामग्री की बिक्री के निर्देश दिये।