बर्खास्त की जाए यूपी की भाजपा सरकार केंद्रीय गृह राज्य मंत्री पर दर्ज हो हत्या का मुकदमा

Scn news india

अमित चौरसिया ब्यूरो नैनपुर 

बर्खास्त की जाए यूपी की भाजपा सरकार केंद्रीय गृह राज्य मंत्री पर दर्ज हो हत्या का मुकदमा

उत्तरप्रदेश में हुई किसानों की हत्या के विरोध में जिला कांग्रेस कमेटी ने सौंपा ज्ञापन

मण्डला – केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा बनाये गए तीन नए कृषि कानूनों का पिछले 6 महीनों से ज्यादा समय से देश भर के किसान विरोध कर रहे हैं लेकिन केंद्र की भाजपा सरकार के अड़ियल रवैये के चलते किसानों की मांग पूरी नहीं की जा रही है। जिसके कारण देश में किसानों का आक्रोश लगातार बढ़ता जा रहा है। किसानों के इन आंदोलनों को दबाने कुचलने के हर संभव प्रयास भाजपा की सरकारों के द्वारा किये जा रहे हैं जिसमें किसानों के साथ उपद्रव व हिंसा भी की जा रही है। ऐसी ही घटना उत्तरप्रदेश के लखीमपुर खीरी में 3 अक्टूबर को हुई जिसमें भाजपा की केंद्र सरकार के गृह राज्य मंत्री के पुत्र व अन्य भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा आंदोलनरत किसानों को निर्दयतापूर्वक चौपहिया वाहनों से कुचल दिया जिसमें 8 किसानों की मौत हो गई। इस शर्मनाक निर्दयी घटना से देश भर के किसानों व नागरिकों में जबरदस्त आक्रोश है।

राकेश तिवारी काँग्रेस जिलाध्यक्ष मंडला

इसी आक्रोश का नजारा मंगलवार को मण्डला नगर की सड़कों पर दिखाई दिया, जिसमें जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष एड राकेश तिवारी ने बताया कि लखीमपुर खीरी में भाजपा के मंत्रियों नेताओ ने केंद्र व राज्य की सरकार के संरक्षण में किसानों की निर्ममता से हत्या की है जो कि किसान आंदोलन को कुचलने का एक सुनियोजित षड्यंत्र है, वहीं जब कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी मृतक किसानों के परिजनों से मिलने उत्तरप्रदेश पहुंची तो यूपी की भाजपा सरकार ने अलोकतांत्रिक तरीके से उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

जिससे देश के करोड़ो कांग्रेस कार्यकर्ताओं में भारी आक्रोश है। इसी के विरोध में जिला कांग्रेस कमेटी के नेतृत्व में रैली निकालकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा गया है जिसमें मांग की गई है कि मृतक किसानों के परिजनों को 5-5 करोड़ की आर्थिक सहायता दी जाए एवं उनके परिजनों में से एक को शासकीय नौकरी दी जाए, घायल किसानों को 50-50 लाख रुपये की सहायता दी जाए, भाजपा के केंद्रीय गृहराज्य मंत्री व उनके पुत्र सहित भाजपा कार्यकर्ताओं के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज किया जाए, घटना की जांच व विवेचना सुप्रीम कोर्ट के जजों की समिति बनाकर की जाए, उत्तरप्रदेश की भाजपा सरकार को बर्खास्त किया जाये, केंद्रीय गृहराज्य मंत्री को पद से हटाकर उन्हें भी मामले में आरोपी बनाया जाए। ज्ञापन सौंपने के दौरान केंद्र व उत्तरप्रदेश की भाजपा सरकारों के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की गई। इस दौरान सैकड़ों की संख्या में जिले के कांग्रेस कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों की उपस्थिति रही।