लोगो की जान का दुश्मन बना नपा नाली निर्माण कार्य—

Scn news india

दिलीप पाल 

  • नपा उपयंत्री के संरक्षण में बिना सुरक्षा के ठेकेदार कर रहा कार्य, 
  • युवक हुआ दुर्घटना का शिकार, मामला पहुँचा पुलिस थाना—
  • गुणवत्ता विहीन कार्य की भी हो चुकी शिकायत, बावजूद जिम्मेदार मौन—
  • 20 लाख की लागत से सात स्थानों पर होना है निर्माण कार्य—
  • सीएमओ ने दिये ठेकेदार को नोटिस जारी करने निर्देश—

आमला.भवानी नगर– नगर पालिका निधि एवं अनुदान मद से इन दिनों नगर के रवींद्रनाथ टैगोर वार्ड क्रमांक 12 के भवानी नगर में कोई साथ स्थानों पर 20 लाख की लागत से नाली निर्माण कार्य प्रगतिरत है।नपा से प्राप्त जानकारी अनुसार उक्त नाली निर्माण कार्य विकाश इंटर प्रायजेस सारणी के ठेकेदार द्वारा कराया जा रहा है।गौरतलब हो कि नाली निर्माण कार्य के शुरुआती दौर में ही लोंगो द्वारा ठेकेदार की कार्यप्रणाली पर आवाज उठा नाली निर्माण कार्य घटिया एवं गुणवत्ता विहीन होने की शिकायत की गई थी।बावजूद इस और नपा के जिम्मेदार अधिकारियों ने ध्यान नहीं दिया गया।जिसके चलते घटिया निर्माण कार्य वह भी बिना सुरक्षा सावधनी के ठेकेदार नाली निर्माण करने में मशगूल है।खास बात तो यह है कि ठेकेदार को मिल रहे अधिकारियो संरक्षण अब लोंगो की जान का दुश्मन बन गया है। भवानी नगर निवासी संतोष पिता द्वारका प्रसाद यादव ने बताया नाली निर्माण कार्य स्थल पर ठेकेदार द्वारा सुरक्षा एवं बचाव के कोई इंतजाम नहीं किये गये जिस कारण रविवार एक 12 वर्षीय बालक दुर्घटना का शिकार हो गया।उक्त घटना नपा के जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारियों एवं ठेकेदार की लापरवाही से घटित हुई है।उन्होंने दोषियों पर कार्यवाही की माँग की है।
दुर्घटना का शिकार हुआ बालक
भवानी नगर में प्रगतिरत नाली निर्माण कार्य में सुरक्षा एवं बचाव के इंतजामात के बिना ठेकेदार द्वारा नाली निर्माण किया जा रहा है।बावजूद नपा उपयंत्री एवं नगर पालिका सीएमओ द्वारा कार्य स्थल का कभी निरीक्षण नहीं किया गया।और नहीं कार्य स्थल पर निर्माण एजेंसी का कोई जिम्मेदार कर्मचारी मौजूद रहता।जिस कारण रविवार बालक मयंक दुर्घटना का शिकार हो गया।नाली निर्माण कार्य में लगाई गई खुली सरिया से बालक के पैर में चोट पहुँची है।जिस बात की शिकायत पालक द्वारा थाना आमला में कर दोषी अधिकारी कर्मचारी एवं ठेकेदार पर उचित कार्यवाही की माँग की गई।
इन्होंने क्या कहा
♦सम्बंधित ठेकेदार अगर नाली निर्माण कार्य नियमोँ को दरकिनार कर कार्य कर रहा है।तो सम्बंधित ठेकेदार को नोटिस जारी किया जायेगा—- नीरज श्रीवास्तव मुख्य नगर पालिका अधिकारी आमला।
♦सरकारी कर्मचारी की जिम्मेदारी है कि वह कार्य स्थल पर पहुँच सुरक्षा इंतजामो का जायजा ले कमी मिलने पर ठेकेदार पर कार्यवाही करे।अगर बिना सुरक्षा के बालक दुर्घटना का शिकार हुआ है तो सम्बंधित अधिकारी एवं ठेकेदार के विरुद्ध मामला बनता है।जिसकी शिकायत की जानी चाहिये—-

वरिष्ठ अधिवक्ता पंडित राजेंद्र उपाध्याय आमला।