मुर्गीपालन इकाइयों का वितरण

Scn news india

अल्केश साहू ब्यूरो 
बैतूल-जिले में स्मॉल होल्डर बैकयार्ड पोल्ट्री यूनिट योजना के तहत हितग्राहियों को अंडा उत्पादन के माध्यम से आय अर्जन करने के उद्देश्य से 16 सप्ताह की 192 मुर्गियां प्रति हितग्राही देने की योजना है। हितग्राहियों को योजना के अंतर्गत मुर्गी पालन हेतु शेड निर्माण एवं केज निर्माण के लिए भी आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई गई है। इस योजना के हितग्राहियों को एक माह का मुर्गी आहार भी दिया जा रहा है ताकि अंडों का उत्पादन आरंभ होने तक हितग्राही पर कोई आर्थिक बोझ न पड़े।
उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. केके देशमुख ने बताया कि उपरोक्त योजना मात्र अनुसूचित जनजाति वर्ग के हितग्राहियों के लिए है। जिले में इस योजना के अंतर्गत तहसील बैतूल के ग्राम खापा में 25 हितग्राहियों एवं तहसील आमला के ग्राम देवपिपरिया में 25 हितग्राहियों सहित कुल 50 हितग्राहियों की इकाइयां स्थापित की गई है। इनमें से प्रत्येक हितग्राही को शत प्रतिशत अनुदान पर शेड एवं केज निर्माण कराकरा 192 मुर्गियां प्रदान की गई है। इन हितग्राहियों को मुर्गी आहार भी प्रदाय किया जा चुका है।
इस योजना से लाभान्वित हितग्राहियों को प्रति दिवस औसतन 150 अंडे प्राप्त होने का अनुमान है जिसके विक्रय से वे अपनी आजीविका चला सकेंगे तथा हितग्राही के परिवार द्वारा उत्पादित अंडों के सेवन से परिवार की पोषण स्थिति में सुधार होगा।