आर्मी भर्ती निरस्त होने का गुस्साएं युवाओं ने किया हंगामा, सिविलियन पर चलाए पत्थर ,बज्र के साथ मौके पर पहुंचा 5 थानों का बल

Scn news india

रोहित नैय्यर ब्यूरो 

जबलपुर। सदर-कैंट क्षेत्र आर्मी एरिया में सेना की भर्ती के लिए कई जिलों से पहुंचे बेरोजगार युवकों को देर रात बताया कि भर्ती प्रक्रिया की तारीख रद्द कर दी गई है। तीन सैकड़ा से अधिक युवाओं के बीच यह मैसेज आग की तरह फैला और सभी लड़के एकाएक आगबबूला हो गए। लड़के आर्मी क्षेत्र में कुछ कर नहीं सकते थे, इसलिए उन्होने अपना पुरा गुस्सा सिविल एरिया में उतारा।
भड़के लड़कों ने सदर के मोदीवाड़ा क्षेत्र में एकाएक पथराव करते हुए दुकानों की शटर तोड़ने का प्रयास करते हुए हंगामा शुरू कर दिया। रात 12 बजे सैकड़ों लड़कों द्वारा की गई इस बेहूदा हरकत को कोई समझ ही नहीं पा रहा था, कि एकाएक सदर में हो क्या गया। भारी उत्पात और हंगामा को देखते हुए स्थानीय लोगों ने केंट पुलिस को सूचना दी।

प्रशांत तिवारी ( क्षेत्रीय जन )
सूचना पर पहुंची पुलिस ने देखा कि युवकों की संख्या अधिक है और कोई किसी की नहीं सुन रहा। मौके से वायरलेस सेट पर हुए कॉल के बाद पुलिस का भारी बल मोदीवाड़ा पहुंच गया। भारी संख्या में पुलिस बल एवं बज्र वाहन को देखकर भड़के युवा एकाएक गलियों से भागते गायब हो गए।
मोदीवाड़ा निवासी प्रशांत तिवारी ने बताया कि रात 12 बजे वह घर में सो रहे थे, तभी एकाएक पथराव सहित हंगामा की आवाज आने लगी। खिड़की से देखा तो गलियों में सैकड़ों युवा इधर-उधर भागते हुए दु़कानों की शटर में लात मार रहे थे। किसी को कुछ समझ ही नहीं रहा था कि आखिरकार हो क्या रहा है।

अमर चंद बावरिया ( कांग्रेस नेता )

 

 शरद राव ( क्षेत्रीय व्यापारी )