ईश्वर का रूप होता है डॉक्टर : अंबिका साबले महिला डॉक्टर पदस्थ होने से खुश है महिलाएं

Scn news india

दिलीप पाल 
आमला -क्षत्रीय लोणारी कुनबी समाज संगठन महिला इकाई द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ डॉक्टर अंशिका तायवाड़े का स्वागत एवं सम्मान किया गया। डॉक्टर अंशिका हाल ही में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मेडिकल ऑफिसर के पद पर पदस्थ हुई है। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महिला इकाई अध्यक्ष अंबिका साबले ने कहा कि कोई भी डॉक्टर ईश्वर का ही रूप होता है, जो विषम परिस्थितियों में हमें जीवन प्रदान करता है। उन्होंने कहा आमला में लंबे समय से महिला डॉक्टर नहीं होने के कारण महिलाओं को काफी समस्या का सामना करना पड़ता था। लेकिन बरसों बाद महिला डॉक्टर पदस्थ होने के बाद महिलाओं को बड़ी राहत मिली है। समाज के अध्यक्ष पुरुषोत्तम लिखितकर ने महिला डॉक्टर की नियुक्ति पर शासन प्रशासन का आभार जताया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बीएमओ डॉक्टर अशोक नरवर ने कहा कि अस्पताल का पूरा स्टाफ पूरे तन मन से लोगों की सेवा में जुटा रहता है। उनके साथ एक अच्छी टीम काम कर रही है। कहा कि इस सम्मान ने पूरे अस्पताल के स्टाफ का गौरव बढ़ाया है। इस अवसर पर समाज के नितिन देशमुख देवेंद्र अड़लक दीपक देशमुख सोनू साबले ऋषि देशमुख दिनेश देशमुख रेखा अड़लक लीला डोंगरे संध्या करोले सहित अन्य उपस्थित लोगों ने छत्रपति शिवाजी की फोटो स्मृति चिन्ह के रूप में देकर दोनों डॉक्टर को सम्मानित किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में समाज के लोग उपस्थित थे।