विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 का किया शुभारंभ

Scn news india

कामता तिवारी
संभागीय ब्यूरो रीवा
Scn news india

  • विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 का किया शुभारंभ
  • 24299 परिवारों को मिलेगा नि:शुल्क गैस कनेक्शन
  • प्रथम चरण में एक करोड़ परिवारों को दिया गया था गैस कनेक्शन
  • महिलाओं को मिलेगी धुएँ से मुक्ति – विधानसभा अध्यक्ष

रीवा- विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने आज नगर पालिक निगम सभागार में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 का दीप प्रज्जवलन कर शुभारंभ किया। इस अवसर पर सांसद श्री जनार्दन मिश्र, पूर्व मंत्री एवं विधायक श्री राजेन्द्र शुक्ल, अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह उपस्थित रहे।
विधानसभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम ने अपने मुख्य आतिथ्य उद्बोधन में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा गरीब, बेसहारा महिलाओं को चूल्हे के धुएँ से मुक्ति दिलाने तथा पर्यावरणीय वायु प्रदूषण को शुद्ध करने के लिये प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 का शुभारंभ किया है। उज्जवला योजना 2.0 के तहत गरीब परिवारों को नि:शुल्क गैस कनेक्शन जिसमें सैलेण्डर, गैस चूल्हा, रेगूलेटर पूरी तरह से मुक्त प्रदान किया जायेगा। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि यह प्रधानमंत्री की लोक कल्याणकारी सोच का परिणाम है कि आवास हीनों को उनके स्वयं के आवास के लिये प्रधानमंत्री शहरी एवं ग्रामीण आवास का शुभारंभ किया। गरीबों एवं ग्रामीणों को हैण्डपंप से मुक्ति के लिये नल-जल योजना का शुभारंभ कर प्रत्येक परिवार को उनके घरों तक नल का कनेक्शन दिया। किसानों के कल्याण के लिये प्रधानमंत्री किसान कल्याण योजना का शुभारंभ कर प्रत्येक किसान के खाते में 2-2 हजार रूपये के मान से 6 हजार रूपये का नकद लाभ देने की शुरूआत की। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना का शुभारंभ कर पथ-विक्रेताओं, फेरी वालों, गुदरी वाले गरीब परिवारों को 10 हजार रूपये की ब्याज मुक्त ऋण राशि उपलब्ध कराई। यह प्रधानमंत्री के व्यापक सोच का परिणाम है कि उन्होंने सर्वहारा परिवार के कल्याण के लिये योजनाओं की शुरूआत की।
विधानसभा अध्यक्ष ने सीमा रावत, कल्पना साकेत, सपना सिंह, प्रमिला सोनी, संगीता पटेल, पुष्पा दुबे, आरती द्विवेदी, सियादुलारी केवट, शकुन्तला यादव, गीता रजक, जलपना जयसवाल, रानी यादव, निशा साकेत, मरजीना, अनामिका सोंधिया, मनोरमा सिंह, मंजू यादव, सविता यादव, सुधा गुप्ता, आशा साहू एवं दुर्गा प्रजापति को नि:शुल्क गैस कनेक्शन वितरित किया।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि उज्जवला योजना 2.0 के तहत जिले के 6.5 लाख परिवारों में से 2.2 लाख परिवारों को उज्जवला योजना का लाभ दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 के तहत प्रथम चरण में देश में 8 करोड़ परिवार लाभांवित हुये हैं। प्रदेश के 71 लाख 51 हजार हितग्राही लाभांवित हुये हैं। विधानसभा अध्यक्ष श्री गौतम ने बताया कि प्रथम चरण में रीवा जिले में 2 लाख 20 हजार परिवारों को उज्जवला योजना का लाभ दिया गया। उन्होंने बताया कि द्वितीय चरण में प्रदेश में 6 लाख परिवारों को नि:शुल्क गैस कनेक्शन दिया जायेगा। प्रदेश में 4 लाख 80 हजार परिवारों का केवाईसी पूर्ण कर लिया गया है।
सांसद श्री जनार्दन मिश्र ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 के तहत गरीब परिवारों को पूरी तरह से नि:शुल्क गैस कनेक्शन दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि इससे महिलाओं को चूल्हा, लकड़ी एवं कोयला से होने वाले धुएँ से छुटकारा मिलेगा और वायु प्रदूषण शुद्ध होगा। सांसद श्री जनार्दन मिश्र ने कहा कि हितग्राही परिवार सलेण्डर खाली होने पर निरंतर उसे भराते रहें।
पूर्व मंत्री एवं विधायक श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गरीब एवं असमर्थ व्यक्तियों तथा विशेषकर महिलाओं को चूल्हे से धुएँ से मुक्ति के लिये प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 का शुभारंभ कर हितग्राहियों को नि:शुल्क गैस कनेक्शन देने का काम किया है। यह एक महत्वपूर्ण योजना है जो सीधे महिलाओं के कल्याण से संबंधित है। जिला प्रशासन पात्र गरीब परिवारों को नि:शुल्क गैस कनेक्शन उपलब्ध कराने का काम करें। उन्होंने कहा कि पूर्व में आवासहीनों को दो कमरे का पक्का आवास उपलब्ध कराने के लिये प्रधानमंत्री ग्रामीण एवं शहरी आवास योजना प्रारंभ की गई। घर-घर पेयजल पहुंचाने के लिये नल-जल योजना प्रारंभ की गई। भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार द्वारा जितनी जन कल्याणकारी योजनायें संचालित की जा रही है सभी में रीवा जिला अग्रणी है।
भाजपा के अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने गरीब महिलाओं को चूल्हे के धुएँ से निजात दिलाने और वनों की सुरक्षा तथा कोयले के संरक्षण के उद्देश्य से प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 प्रारंभ की है। उनके द्वारा महिलाओं के हित में एतिहासिक निर्णय लिया गया है। नि:शुल्क गैस कनेक्शन की सहायता से खाना पकाने में अब महिलाओं की आँखों मं आसू नहीं आयेंगे और न ही उनकी आँखें खराब होंगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री हमेशा से सर्वहारा वर्ग के प्रति सोचते हैं और उन्हीं के कल्याण के लिए योजनाएँ प्रारंभ की है। ग्रामीणों को शीघ्र ही सूखे हैण्डपंप, एवं मेहनत से निकाले गये हैण्डपंप के पानी से छुटकारा मिलेगा और नल-जल योजना की सहायता से पाइप लाइन एवं टोटियों द्वारा उनके घरों में पानी मिलेगा। इस अवसर पर कमिश्नर अनिल सुचारी, कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी, नगर पालिक निगम के आयुक्त मृणाल मीणा, विधानसभा अध्यक्ष के सचिव अवधेश तिवारी सहित जनप्रतिनिधि एवं जिला अधिकारी उपस्थित रहे।