यदि फिल्म मेकिंग या फिल्मों में काम करने में रूचि है तो ये मौका मप्र सरकार ने लाया आपके लिए -ऑनलाइन आवेदन करे

Scn news india

हर्षिता वंत्रप 

भोपाल-प्रमुख सचिव पर्यटन और संस्कृति श्री शिव शेखर शुक्ला ने बताया कि प्रदेश में पर्यटन को फिल्म अनुकूल बनाने के लिए पर्यटन विभाग ने एक नई पहल शुरू की है। इसमें सिनेमा से सम्बंधित प्रतिभावान एवं कुशल लोगों को तैयार करने के लिए बुधवार, 15 सितम्बर 2021 को सुबह 11 बजे से मिंटो हॉल में एक दिवसीय शिक्षण और इंटरेक्टिव-सत्र “द एक्सपर्ट शॉट्स” वर्कशॉप का आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रम का शुभारम्भ पर्यटन, संस्कृति और आध्यात्म मंत्री सुश्री उषा ठाकुर द्वारा किया जाएगा। कार्यक्रम में सिनेमा के प्रसिद्ध डॉयरेक्टर, एक्टर और फ़िल्म विशेषज्ञ प्रदेश के फिल्म सम्बंधित छात्र-छात्राओं को फ़िल्म मेकिंग की बारीकियों से अवगत कराने के साथ ही उनकी जिज्ञासाओं का भी समाधान करेंगे। 

श्री शुक्ला ने बताया कि एक दिवसीय सत्र को प्रसिद्ध फ़िल्म निर्माता- निर्देशक श्री अनुराग बसु , श्री राज शांडिल्य, कास्टिंग डॉयरेक्टर श्री मुकेश छाबरा, संचालक (एमपीएसडी) श्री आलोक चटर्जी और  श्री शिवांकित सिंह परिहार,  द्वारा संबोधित किया जाएगा। कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए फिल्म एवं थिएटर से जुड़े इच्छुक छात्र-छात्राएँ और कलाकार पर्यटन विभाग की वेबसाइट tourism.mp.gov.in पर ऑनलाइन आवेदन कर  सकते हैं। कार्यक्रम में सीमित संख्या में रजिस्टर्ड छात्र-छात्राओं को प्रविष्ट किया जाएगा।

श्री शुक्ला ने बताया कि वर्कशॉप का उद्देश्य  फिल्म मेकिंग से सम्बंधित छात्र-छात्राओं को सिनेमा जगत के स्थापित कलाकारों के हुनर की बारीकियाँ सीखने और सिनेमा से सम्बंधित अपनी जिज्ञासाओं एवं प्रश्नों के समाधान का अवसर प्रदान करना है। वर्कशॉप मे आमंत्रित विशेषज्ञ वक्ताओं द्वारा सिनेमा से सम्बंधित विषयों जैसे, अभिनेता का संपूर्ण विकास कैसे होता है, अभिनय के अलावा बाकी विधाओं की जानकारी, दैनिक रियाज़-आंगिक/ वाचिक, शूटिंग के दौरान आने वाली चुनौतियाँ, स्क्रिप्ट राइटिंग की बारीकियाँ, प्रोफाइल तैयार करने के लिए टिप्स और ट्रिक्स एवं फिल्म जगत के अनुभव आदि विषयों पर छात्र-छात्राओं से अपना अनुभव साझा करेंगे।

श्री शुक्ला ने बताया कि पर्यटन विभाग द्वारा आयोजित यह कार्यक्रम इस श्रृंखला का प्रथम सत्र है। भविष्य में भी इस प्रकार से कई सत्र अलग-अलग विषयों पर आयोजित किये जायेंगे जो की प्रदेश के भावी कलाकारों और युवाओं को सिनेमा के क्षेत्र में आगे बढ़ने में सहायक सिद्ध होंगे।