कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण में आई तेजी

Scn news india

हेमंत वर्मा 
० पखवाड़े भर के टीकाकरण कार्यक्रम में छुईखदान ब्लाक पूरे जिले में अव्वल
० त्यौहार के मौसम में बढ़ाया जा सकता है जांच का दायरा
० कोरोना प्रोटोकाल का पालन करने के साथ टीका लगवाने की अपील

राजनांदगांव। कोरोना संक्रमण से बचाव का प्रयास करते हुए टीकाकरण के साथ ही त्योहारों के मौसम में सतर्कता बढ़ा दी गई है। छुईखदान विकासखंड के साल्हेवारा में अब तक जहां 100 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण पूर्ण कर लिया गया है, वहीं शिशुवती माताएं भी सुरक्षा का टीका लगवाकर अपने शिशु को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित कर रही हैं। इस जागरुक पहल के लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग साल्हेवारा द्वारा टीकाकृत लाभार्थियों को शुभकामनाएं दी गई हैं तथा जिन लोगों ने अभी तक कोरोना टीका नहीं लगवाया है, उनसे शीघ्र टीका लगवाने की अपील की जा रही है।
जिले के सीमावर्ती राज्य महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को गंभीरता से लेते हुए जिला प्रशासन के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जिले में सतर्कता बढ़ा दी गई है। लोगों से जल्द से जल्द कोरोना टीका के दोनों डोज लगवाने की अपील की जा रही है। इसी क्रम में गुजरे लगभग 15 दिनों में राजनांदगांव जिले के अन्य विकासखंडों की तुलना में छुईखदान विकासखंड में सबसे ज्यादा लोगों का टीकाकरण किया गया है। इस संबंध में छुईखदान बीएमओ डा. मनीष बघेल ने बताया, कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत साल्हेवारा में अब तक 100 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण पूर्ण कर लिया गया है। टीकाकरण के लिए शिशुवती माताओं को प्राथमिकता दी जा रही है। इसमें अब तक विकासखंड की मितानिनों ने भी सराहनीय भूमिका निभाई है। छुईखदान विकासखंड के साल्हेवारा क्षेत्र में लगभग 57 प्रतिशत लोगों ने कोरोना टीका का पहला तथा लगभग 8 प्रतिशत लोगों ने दूसरा डोज लगवा लिया है। इसका मतलब यह है कि यहां अभी भी लगभग 43 प्रतिशत लोग पूर्ण तथा लगभग 92 प्रतिशत लोग आंशिक रूप से संक्रमण के दायरे में हैं। उन्होंने बताया, यह आंकड़ा 18 वर्ष के ऊपर आयु वर्ग के लाभार्थियों का है। साथ ही अपील की है, कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका को गंभीरता से लेते हुए अधिक से अधिक लोग शीघ्र टीकाकरण करवाकर अपने, अपने परिवार, समाज और देश को कोरोना संक्रमण से बचाने में योगदान दें। राजनांदगांव के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी ने बताया, कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु जिले में कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम लगातार चलाए जा रहे हैं। पिछले 10 दिनों में कोरोना का ग्राफ बढ़ा है और ऐसे में सभी को सावधान रहने की जरूरत है। त्यौहार के मौसम में टेस्टिंग बढ़ाने के लिए भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा जोर दिया जा रहा है।
बाक्स…
कलेक्टर ने ली बैठक, दिए कई निर्देश
पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में कोविड-19 के बढ़ते मामले को गंभीरता से लेते हुए राजनांदगांव कलेक्टर तारण प्रकाश सिन्हा ने आपात बैठक ली है। इस दौरान उन्होंने कहा, नागपुर में कोविड-19 के बढ़ते हुए केस चिंताजनक हैं। राजनांदगांव जिला महाराष्ट्र बॉर्डर पर होने के कारण यहां भी अधिक सावधानी की जरूरत है। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सभी को आवश्यक सावधानी रखनी चाहिए। सभी लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें तथा टीकाकरण अवश्य कराएं। उन्होंने लोगों से अपील की है, त्यौहारों पर अनावश्यक भीड़ न करें। उन्होंने बार्डर में विशेष रूप से मॉनिटरिंग करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।
——————