जबलपुर में आजादी के अमृत महोत्सव पर बहुआयामी समारोह 18 सितम्बर को

Scn news india

रोहित नैय्यर ब्यूरो प्रमुख जबलपुर 

जबलपुर -आज़ादी के अमृत महोत्सव पर 18 सितम्बर को जबलपुर में बहुआयामी समारोह हो रहा है। केन्द्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह विशेष रूप से इस कार्यक्रम में आ रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरूवार को मंत्रालय में हुई एक बैठक में समारोह की तैयारियों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आजादी के 75 वें अमृत महोत्सव के अंतर्गत जनजाति नायकों का यह गौरव समारोह पूरी गरिमा और व्यवस्थित रूप से सम्पन्न करवाने की व्यवस्था की जाए। जबलपुर में इस समारोह में आदिवासी जननायक शंकरशाह और रघुनाथ शाह के बलिदान का स्मरण किया जाएगा। उनके बलिदान की गाथा की गीत-संगीतमय प्रस्तुति की तैयारी की जा रही है।

समारोह में केन्द्रीय गृह मंत्री और अन्य अतिथियों द्वारा शहीद शंकरशाह और रघुनाथ शाह की मूर्तियों पर माल्यार्पण भी किया जाएगा। कार्यक्रम में प्रख्यात कवयित्री स्व. सुभद्रा कुमारी चौहान की ओजस्वी कविताओं की प्रस्तुति भी होगी। आजादी के 75वें अमृत महोत्सव में जनजाति नायकों के इस गौरव समारोह में प्रदर्शनी, पुस्तक लोकार्पण, फिल्म प्रदर्शन और ई-एलबम के लोकार्पण की गतिविधियां भी होंगी। केन्द्रीय गृह मंत्री स्वाधीनता आंदोलन पर केन्द्रित प्रदर्शनी का अवलोकन करेंगे। विभिन्न ज्ञात-अज्ञात स्वतंत्रता सेनानियों के चित्रों की प्रदर्शनी के माध्यम से उनके राष्ट्र को दिए गए अमिट योगदान का स्मरण किया जाएगा। समारोह में अमर शहीद राजा शंकरशाह एवं रघुनाथ शाह के काव्य सृजन को ब्रिटिश अधिकारियों द्वारा अपराध मानकर दोनों को तोप के मुँह से बाँधकर मौत के घाट उतार देने के प्रसंग को कविता के माध्यम से प्रस्तुत किया जाएगा। लोक कलाकारों द्वारा यह प्रस्तुति होगी। समारोह में अमर शहीद राजा शंकर शाह एवं रघुनाथ शाह पर केन्द्रित फिल्म प्रदर्शन, ‘जंगे-ए-आज़ादी में जबलपुर’ पुस्तक का लोकार्पण, स्वाधीनता संग्राम के रणबांकुरों, जननायकों तथा सेनानियों पर केन्द्रित ई-एल्बम का लोकार्पण भी किया जाएगा। समारोह से संबंधित की जा रही तैयारियों की विस्तृत जानकारी प्रमुख सचिव संस्कृति, जनसंपर्क और पर्यटन श्री शिवशेखर शुक्ला और प्रमुख सचिव जनजातीय कार्य विभाग श्रीमती पल्लवी जैन गोविल ने प्रदान की।

कोरोना गाइड लाइन का होगा पालन

जबलपुर में गैरीसन ग्राउण्ड पर हो रहे कार्यक्रम में आमंत्रित अतिथियों और प्रतिभागियों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बिठाने की व्यवस्था रहेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जबलपुर जिला प्रशासन को इस संबंध में आवश्यक व्यवस्थाएं करने के निर्देश दिए हैं। कार्यक्रम में जनजाति समुदाय के मुखियाओं को भी आमंत्रित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्व-सहायता समूहों की सदस्य बहनों की भागीदारी और उससे संबंधित आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। बैठक में सहकारिता मंत्री श्री अरविंद सिंह भदौरिया, पर्यटन, संस्कृति, आध्यात्म मंत्री सुश्री उषा ठाकुर, जनजातीय कार्य मंत्री कु. मीना सिंह सहित मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Live Web           TV