घोड़ाडोंगरी क्षेत्र में चलित खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला द्वारा 54 नमूने लिए गए

Scn news india
 
अल्केश साहू ब्यूरो 
मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत चलित खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला 10 सितंबर तक जिले के भ्रमण पर है। कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस के निर्देश पर चलित खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला द्वारा घोड़ाडोंगरी क्षेत्र के ग्राम रानीपुर, बगडोना, घोड़ाडोंगरी के 14 प्रतिष्ठानों से 54 नमूने जांच हेतु संग्रहित किए गए, जिसमें दूध, खोवा, मिठाई, हल्दी, मिर्ची, रंगीन चटनी, गर्म तेल, बेसन के लड्डू, बालूशाही, सरसों तेल, बेसन, मसूर दाल, मसाले दाल व अन्य खाद्य पदार्थ के नमूने शामिल हैं। दस प्रतिष्ठानों पर रियूज किए जाने वाले खाद्य तेल का परीक्षण किया गया, जिसमें 7 खाद्य तेल मानक स्तर के पाये गये, तीन नमूने में टीपीएम की मात्रा अधिक होने पर मौके पर नष्ट कराया गया। विक्रेता को सुधार सूचना पत्र जारी किया जाएगा। अन्य नमूनों की जांच अभी की जा रही है जिसका परिणाम अभी शेष है।
चलित खाद्य प्रयोगशाला द्वारा मालवीय भवन घोड़ाडोंगरी में व्यापारियों में जागरूकता हेतु ट्रेनिंग प्रोग्राम आयोजित किया गया, जिसमें लगभग 35 खाद्य कारोबार कर्ताओं द्वारा भाग लिया गया। ट्रेनिंग प्रोग्राम में व्यापारियों को खाद्य व्यवसाय से जुड़ी बारीकियां एवं खाद्य पदार्थो की जांच के संबंध में जानकारी प्रदान की गई। चलित खाद्य प्रयोगशाला के भ्रमण के दौरान उपभोक्ताओं द्वारा 6 नमूनों की मौके पर जांच कराई गई, जिसमें हल्दी, मिर्ची, धनिया, शहद, काली मिर्च, लौंग के नमूने थे । सभी नमूने मानक पाये गये। इस दौरान घोड़ाडोंगरी नायब तहसीलदार श्री वीरेंद्र उईके , खाद्य सुरक्षा अधिकारी श्री संदीप पाटिल , कार्यालय सहायक श्री योगेश दिवगाया, चलित प्रयोगशाला के केमिस्ट श्री सुनील विश्वकर्मा व श्री शिवाजीराव उपस्थित रहे।