पुलिस कर्मियों द्वारा मेट्रो बस के परिचालक और चालक के साथ मारपीट करने का मामला

Scn news india

रोहित नैय्यर ब्यूरो 

जबलपुर में पुलिस कर्मियों द्वारा मेट्रो बस के परिचालक और चालक के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया है,मेट्रो बस कर्मियों की गलती बस इतनी थी, कि उन लोगो ने एक पुलिस आरक्षक से सफर करने के बदले टिकिट के पैसे मांगे थे,जिसका विरोध करते हुए जबलपुर पुलिस के आरक्षक ने मेट्रो बस कंडक्टर से अभद्रता करते हुए पीटा…जिसके विरोध में एक दर्जन मेट्रो बस चालकों ने रास्ते पर बसें खड़ी कर विरोध जताया, दरअसल बताया जा रहा है कि पुलिस आरक्षक रद्दी चौक से पनागर जाने मेट्रो बस में सवार हुआ था,इसी दौरान बस के कंडक्टर संदीप ने आरक्षक से टिकिट कटाने कहा,जिस पर आरक्षक ने वर्दी का रौब दिखाते हुए टिकिट न कटाने की बात कही,जिससे नाराज आरक्षक रास्ते में उतर गया,

और उसके बाद आरक्षक ने अपने एक सह पुलिस कर्मी के साथ मिलकर गोसलपुर में बस को रोका और उसे गोसलपुर थाने ले जाकर खड़ा कर दिया,इसके बाद दोनों पुलिस कर्मियों ने बस के कंडक्टर संदीप रजक के साथ थाने में अभद्रता करते हुए मारपीट की,जिसके बाद बस कर्मियों ने थाने में हुई अभद्रता और मारपीट की घटना की खबर दूसरे बस कर्मियों को दी,जिसके बाद दूसरे बस कर्मी बसें लेकर गोसलपुर पहुंच गए और थाने के बाहर सड़क पर बसे खड़े कर विरोध जताया,बस कर्मियों के जाम लगा विरोध करने की मामले की खबर मिलते ही मौके पर पुलिस अधिकारी पहुंचे और उन्होंने मेट्रो बस चालको को कार्यवाई का भरोसा दिलाते हुए रास्ते से बसों को हटवाया, वही पुलिस अधिकारियों का कहना था कि मामले की जांच के बाद जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्यवाई की जाएगी..।

संदीप रजक — पीड़ित बस कर्मी