सुलह से मामलो का निराकरण न्याय का सर्वोत्तम क्षण

Scn news india

दिलीप पाल 

आमला.दिनांक 11.09.2021 को होने वाली नेशनल लोक अदालत की तैयारी हेतू व्यवहार न्यायालय आमला में जिला एवं सत्र न्यायाधीश अफसर जावेद खाॅन बैतूल विशेष न्यायाधीश राकेश मोहन प्रधान, एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकारण की सचिव श्रीमति दीपिका मालवीय, न्यायालय परिसर आमला में उपस्थित हुये, इस अवसर पर अपर जिला सत्र न्यायाधीश अतुलराज भलावी, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी आमला एन. एस. ताहेड साहब, एवं न्यायाधीश सुश्री रीना पिपल्या के न्यायालय के सभी प्रकार के लगभग 100 मामले मध्यस्थता एवं सुलह से निराकरण हेतू रखे गये थे, वरष्ठि न्यायाधीशगण द्वारा वाद के पक्षकारो को आमने सामने बैठाकर विवाद को समझने की कोशिश की और दोनो पक्षो के मध्य जो छोटे-छोटे आपसी मतभेद थे उन मतभेदो को दूर करने के लिए समझाईश दी गई। अनेको मामलो मे सुलह हो गई जिनका निराकरण दिनंाक 11.09.2021 को होने वाली लोक अदालत में किया जावेगा। पक्षकारो को एवं अधिवक्ताओ को संबोधित करते हुये जिला न्यायाधीश अफसर जावेद खाॅन ने कहा कि मध्यस्थता एवं सुलह के माध्यम से विवादो को समझकर जब विवाद भूलकर पक्षकार एक हो जाते है और आपसी सहमति से सुलह कर लेते है तो यह न्याय का सर्वोत्तम क्षण होता है।


इस प्रक्रिया में विवाद हमेशा के लिए समाप्त हो जाते है और सुलभ एवं सहज न्याय पक्षकारो को प्राप्त हो जाता है। अधिवक्ताओ को वाद के निराकरण में सहयोग हमेशा मिलता है, अधिवक्ता संघ आमला के सदस्य नेशनल लोक अदालत में अधिकतम प्रकरणो के निराकरण मे सहयोग करे इस अवसर पर न्यायाधीशगण ने न्यायालय परिसर में पौधा रोपण भी किया, बडी संख्या में पक्षकार एवं आमला, मुलताई और बैतूल से अधिवक्ता नेशनल लोक अदालत की तैयारी हेतू उपस्थित रहे।