पांढुर्णा में गोटमार मेला शांतिपूर्वक संपन्न

Scn news india

मनोहर

छिन्दवाड़ा जिला मुख्यालय से 98 किलोमीटर दूर विकासखंड पांढुर्णा में वर्षो से चली आ रही परम्परा का गोटमार मेला शांतिपूर्वक सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, नगरपालिका के अधिकारी-कर्मचारी प्रातः काल से ही मुस्तैद थे।  गोटमार मेले में 38 व्यक्ति घायल हुए जिनका उपचार किया गया तथा उनमें से एक व्यक्ति को फ्रैक्चर के कारण इलाज के लिये नागपुर रेफर किया गया।

पांढुर्णा के गोटमार मेले में इस बार भी जिला और पुलिस प्रशासन की अच्छी व्यवस्था थी। जिला एवं पुलिस प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी मेला स्थल पर अंत तक रहे एवं व्यवस्थाओं का जायजा लेते रहे। मेले में पुलिसकर्मी वर्दी और सादी वेशभूषा में तैनात किये गये थे तथा बाहर से भी पुलिस फोर्स को बुलाकर मेले में तैनात किया गया था। नदी के एक तरफ अस्थायी रुप से 4 अस्पताल बनाये गये थे, जिनमें घायल व्यक्तियों का चिकित्सकों और पैरामेडिकल स्टाफ द्वारा प्राथमिक उपचार किया जाता रहा। उपचार के लिये एम्बुलेंस की व्यवस्था भी की गई थी।
मेले के दौरान कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन और पुलिस अधीक्षक श्री विवेक अग्रवाल ने मेले में भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया तथा मेले की गतिविधियों पर नजर रखी। मेले के शांतिपूर्वक समापन पर जिला प्रशासन द्वारा सभी नगरवासियों, पत्रकारों और सहयोगी अधिकारियों-कर्मचारियों के प्रति आभार व्यक्त किया गया। मेला स्थल पर मौजूद रहकर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री हरेंद्र नारायण, अतिरिक्त कलेक्टर श्रीमती रानी बाटड, सहायक कलेक्टर श्री अभिषेक सराफ, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री संजीव उईके,  राजस्व अनुविभागीय अधिकारी पांढुर्णा सुश्री मेघा शर्मा, एस.डी.एम. सौंसर श्री श्रेयांस कुमट, एसडीएम चौरई श्री ओ.पी.सनोडिया, पांढुर्णा के पुलिस अनुविभागीय अधिकारी, तहसीलदार, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, नगरीय निकाय के मुख्य नगरपालिका अधिकारी और चिकित्सकों की टीम ने मेले में व्यवस्था बनाये रखने में सहयोग दिया।