नई शिक्षा नीति लागू करने से प्रदेश के जी.इ.आर. में वृद्धि निश्चित है : उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव

Scn news india

हर्षिता वंत्रप 

भोपाल -उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि नई शिक्षा नीति के लागू होने से प्रदेश के सकल नामांकन अनुपात (GER) में वृद्धि निश्चित है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2019-20 में म.प्र. का सफल नामांकन अनुपात 24.2 प्रतिशत था जो राष्ट्रीय 27.1 प्रतिशत के आसपास है। डॉ. यादव मंगलवार को प्रदेश के 39 निजी विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन को लेकर म.प्र. निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग में कार्यशाला के समापन सत्र को संबोधित कर रहे थे।

मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि प्रदेश में निजी विश्वविद्यालय की स्थापना के पीछे परिकल्पना है कि वे अपने संसाधनों की श्रेष्ठता सिद्ध करें अन्य संस्थान उनका अनुसरण करें। उन्होंने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति नए भारत की नई उम्मीदों तथा नई आवश्यकताओं की पूर्ति का माध्यम है। उन्होंने कहा कि यह हमारे लिए बड़े गर्व की बात रही है कि कोरोना काल में जहाँ विश्व में शैक्षणिक गतिविधियाँ भी रूक गई थी, वहीं मध्यप्रदेश द्वारा ऑनलाईन कक्षाओं का संचालन, ओपन बुक परीक्षा से समय पर परिणाम घोषित कर अनूठा कार्य किया गया है, जो देश में एक मॉडल रहा है, जिसकी अन्य प्रदेशों द्वारा प्रशंसा की गई। उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि नई शिक्षा नीति शासकीय विश्वविद्यालयों में क्रियान्वित हो गई है। इस नीति की सफलता में निजी विश्वविद्यालयों का सहयोग अत्यंत महत्वपूर्ण एवं आवश्यक है। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि इस तरह की कार्यशाला जिलों एवं संभाग स्तर पर भी आयोजित करें। राष्ट्रीय शिक्षा नीति का प्रचार अधिक से अधिक करें।