नहर विस्तार की घोषणा पूर्ण कराने हेतु समस्त क्षेत्रीय कृषक समिति मुख्यालय रमपुरी की बैठक संपन्न हुई। किसानों में देखा गया आक्रोश

Scn news india

शारदा श्रीवास ब्यूरो मंडला 

मंडला जिले के विकासखंड नैनपुर की ग्राम पंचायत चिरईडोंगरी ,रमपुरी, ईश्वरपुर, जामगांव, चमरवाही, चीजगांव, भालीवाडा, मानेगांव , पांडिवारा ,अमझर,धनपुरी रैयत, चंदियाजर,इंद्री, कामता आदि स्थानों के कृषकों द्वारा थावर सिंचाई परियोजना नहर विस्तारीकरण को लेकर सन 1996 से चल रही मांगो की सुनवाई नहीं होने पर कृषक आक्रोशित नजर आ रहे हैं कृषकों का कहना है कि इन गांव में सिंचाई सुविधा उपलब्ध ना होने के कारण किसी वर्ष बारिश कम होने से सूखे की स्थिति बन जाती है।

असिंचित क्षेत्र होने के कारण पांच – पांच, दस- दस एकड़ के कृषक मजदूरी करने के लिए पलायन कर जाते हैं । नहर विस्तार सिंचाई उपलब्ध कराने की मांग वर्षों से क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि सांसद विधायक प्रभारी मंत्री संबंधित मंत्री सहित मुख्यमंत्री तक मांग करते आ रहे हैं पूर्व मंडला जिले के जनदर्शन कार्यक्रम के दौरान नैनपुर जाते समय ग्राम जामगांव में दिनांक 12 सितंबर 2008 को हजारों की संख्या में कृषक उपस्थित जन समूह एवं क्षेत्रीय विधायक देव सिंह सैयाम जी, सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते जी एवं अन्य प्रदेश एवं जिले के पदाधिकारियों के समक्ष जन समुदाय के मैहर के विस्तार की मांग पर नहर विस्तार की घोषणा की गई थी,

जो 2 पंच वर्षीय बीत जाने के बाद भी इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है बैठक में किसानों द्वारा आगामी आंदोलन की रणनीति बनाई गई साथ ही यह निर्णय लिया गया कि अगर हमारी मांगों की पूर्ति नहीं होती है तो हम सड़कों में उतर कर धरना प्रदर्शन वह उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य रहेंगे जिसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी इस दौरान समस्त क्षेत्र कृषक समिति मुख्यालय रमपुरी के समस्त पदाधिकारी, सभी ग्रामों के सरपंच वरिष्ठ किसान सुखदेव ठाकुर, प्रभात साहू,मानव अधिकार परिषद प्रदेश अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार यादव, समाजसेवी लालू प्रसाद पटेल सहित अनेक किसान मौजूद रहे।