स्कूल प्रबन्धन ने फीस के बदले रखे सोने की कील गिरवी,अभिभावक को धक्का मारकर किया बाहर – ABVP ने खोला मोर्चा धरना दे कर न्याय दिलाया

Scn news india

नवनीत गुप्ता ब्यूरो कटनी 

स्कूल फीस को लेकर आये दिन पेरेंट्स और स्कूल संचालको के मामले आपने सुने होंगे, लेकिन एक खास विशेषता कटनी शहर के एक स्कूल की घटना सामने आई है, कटनी के निजी स्कूल किड्स केयर संचालक ने एक गरीब महिला अभिभावक से उसके कान की कील जो सोने की थी स्कूल की फीस जमा न कर पाने के बदले स्कूल प्रबंधन ने महिला के कान के कील तक गिरवी रख लिया।

शिक्षा के मन्दिर जो निजी स्कूलों की मनमानी यही नही थमती है, महिला अभिभावक अपने बच्चों फीस जमा न कर पाने की असमर्थता जताई और वर्ष 2019-20 के सत्र में ही आवेदन देकर टीसी मांगने लगी तो टीसी देने के बजाय उसे टीसी न देकर उसके बच्चों के दो वर्ष खराब कर दिए और अब दो वर्ष की फीस की मांग करने वाला यह अपने आप मे अनूठा स्कूल सामने आया है।

लगातार अपने पति के साथ स्कूल जाकर टीसी मांगती रही और 200₹ जमा कराता रहा स्कूल प्रबंधन जब एक मुश्त रकम 6000₹ की मांग की गई कि पूरी फीस जमा करो तब टीसी देंगे, अभिभावक द्वारा 6000₹जमा न कर पाने की अपनी मजबूरी बताई तो स्कूल संचालक और स्कूल प्रिंसिपल ने अपने चेम्बर से धक्के मारकर महिला को बाहर खदेड़ दिया।

ABVP कटनी अध्यक्ष, सिप्तेन रज़ा

★★ (इसके पूर्व भी किड्स केयर स्कूल अपने कारनामो से सुरकियो में रह चुका है, विगत सालो वार्षिक समारोह के नाम पर सभी बच्चों से 500₹ अनिवार्य जमा करने का तुगलकी आदेश भी पहले दे चुका है, आपको बता दे कि 500₹ लेकर अभिभावकों से मुंबई से फिल्मी कलाकारों को बुलाकर रँगारंग कार्यक्रम भी करा चुका यह स्कूल तब भी इस स्कूल की पूर्व में भी किरकिरी हो चुकी है।)

इस घटना की जानकारी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद को होने पर कटनी ABVP अध्यक्ष सिप्तेन रजा अपने कार्यकर्ताओं संग स्कूल प्रबंधन के खिलाफ जमकर हल्ला बोला और धरना प्रदर्शन कर गरीब अभिभावक के साथ खड़े नजर आए और तत्काल टीसी देने की मांग पर अड़ गए।

किड्स केयर स्कूल संचालक, डॉक्टर डी के खरे

धरना प्रदर्शन में स्कूल में हंगामा की जानकारी मिलते ही NKJ थाने की पुलिस दलबल सहित किड्स केयर स्कूल जा पहुँची, जहां वास्विकता से परिचित होते ही स्कूल प्रबन्धन से आवेदिका गरीब अभिभावक को टीसी जारी करने की बात कही और अंत तक अड़ियल स्कूल प्रबन्धन इनकार करता रहा फीस की मांग करता रहा।

अभिभावक, हरिश्चंद्र विश्वकर्मा

ABVP के सभी छात्र नेता भी स्कूल आ धमके और पुलिस से झूमा झटकी होने लगी, पुलिस के बल प्रयोग में कटनी ABVP अध्यक्ष भी चोटिल हुए और मामला गम्भीर होता देख NKJ थाना प्रभारी ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को इस मामले से अवगत कराया और पुलिस के दबाव और ABVP के प्रदर्शन का असर हुआ स्कूल प्रबन्धन को झुकना पड़ा व गरीब अभिभावक के दोनों बच्चों की टीसी मिल सकी।

 गरीब महिला अभिभावक, कृष्णा विश्वकर्मा