5 कोरोड के सिविल अस्पताल निर्माण में गुणवत्ताविहीन हो रहा कार्य पीआईओ के अधिकारियों की मिलीभगत का नतीजा

Scn news india

दिलीप पाल 

  • 5 कोरोड के सिविल अस्पताल निर्माण में गुणवत्ताविहीन हो रहा कार्य
  • पीआईओ के अधिकारियों की मिलीभगत का नतीजा
  • पीआईयू के इंजीनियर निर्माण स्थल पर नही रहते अधिकारी
  • आमला. नगर के एक मात्र सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र

आमला में 5 करोड़ की लागत से बैतुल के ठेकेदार मिश्रा कन्टेक्सन द्वारा कार्य किया जा रहा है जहां निर्माण कार्य मे धांधली की जा रही है खासबात है कि निर्माण स्थल पर निर्माण सामग्री की जाच के लिए लेब भी नही है इसके कारण घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया जा रहा है वही जनप्रतिनिधियों के भी इस ओर कोई ध्यान नही होना आश्चर्य की बात है। वही अस्पताल प्रबंधक द्वारा भी निर्माण कार्य में कई बार आपत्ति ली गई है लेकिन प्रिया यू के अधिकारी ठेकेदार को संरक्षण दिए हुए हैं इस कारण से घटिया सामग्री का उपयोग किया जा रहा है बताया जा रहा है कि मिक्सर मशीन भी खराब है वही लगाया जाने वाला कोटा स्टोन भी घटिया स्तर का है खास बात तो यह है कि रिजेक्ट वाला कोटा स्टोन लगाया जा रहा है कंक्रीट का कार्य भी नाप के किया जा रहा है
कंक्रीट का कार्य गोले में नहीं किया गया है जिससे ब्रिक वर्क और कॉलम बीम का कार्य अलग दिख रहा है लाइन में नही है।
m-20 कंक्रीट वर्ग में 5 प्रतिशत से अधिक है जिसमें कॉलम और कंक्रीट कार्य भुगतान योग्य नहीं है इसके बाद भी घटिया निर्माण का बिल जोरो से निकला जा रहा है वही पीआईयू विभाग के अधिकारियों आँखे मुंदे हुए है जिसके कारण अस्पताल का निर्माण कार्य घटिया सामग्री से किया जा रहा है ।
इनका कहना है…….
सिविल अस्पताल निर्माण कार्य में ठेकेदार द्वारा गुणवत्ताविहीन कार्य की जा रहा है ठेकेदार के पास लेब भी नही है
डॉक्टर अशोक नरवरे बीएमओ आमला