राजधानी भोपाल में सीएबी और एनआरसी का विरोध, दिग्विजय सिंह ने बताया काला कानून

Scn news india

मनोहर

भोपाल- नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के विरोध में राजधानी भोपाल के इकबाल मैदान में  कांग्रेस द्वारा धरना-प्रदर्शन किया गया। कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि जो लोग भारत के संविधान को मानते हैं, वे इस काले कानून को कभी लागू नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने अभी सिर्फ अपने पेड़ की पत्तियां ही दिखाई हैं। असली तने की कहानी अभी बाकी है। ये मूलतः  राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की विचारधारा है, जिसने महात्मा गांधी की हत्या की और इस विचारधारा ने बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर के सविधान को जलाया था। इस विचारधारा ने 1962 में भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का भी अपमान किया था। ये लोग देश में हिंदू, मुसलमान, सिख और ईसाई को अलग करना चाहते हैं।  अंग्रेजों की तरह फूट डालो राज करो की नीति पर देश पर राज करना चाहते हैं। जो कभी नहीं होने दिया जाएगा। मैदान में हजारों की संख्या में लोग विरोध दर्ज कराने पंहुचे थे।

बता दे की पहले कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने धमकी दी थी कि यदि उनकी सरकार प्रदेश में एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून (सीएबी) लागू करेगी तो वह विधायक पद से इस्तीफा दे देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.