टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

Scn news india

जबलपुर रोहित नैय्यर की रिपोर्ट 

जबलपुर,। सरस्वती विद्या मंदिर त्रिमूर्ति टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हम सभी भुल्लकड़ हो गए हैं। कुछ अच्छे दिन आए नहीं कि कोरोना प्रोटोकाल को ही भूल गए। चेहरे में मास्क नहीं, सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं हो रहा है। जबलपुर में 73 प्रतिश वैक्सीनेशन हुआ जो लक्ष्य से कम है। जबलपुर में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन हो इसके लिए एक अकेले को प्रयास नहीं सभी को मिलकर प्रयास करना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि दूसरी लहर ने तबाही मचा दी, रोंगटे खड़े हो गए, अपनो को खो दिया, बच्चे अनाथ हो गए। सीएम ने कहा कि भूलने की आदत है हमारी, कोरोना प्रोटोकाल भूल गए, कोरोना टीकाकरण धीमा, लोग टीका नहीं लगवा रहे हैं।

लोगों को ध्यान दिलाने के लिए वैक्सीनेशन महाअभियान चलाने पड़ा है। वायरस खत्म नहीं हुआ ये ध्यान रखें, रोज पाजीटिव केस आ रहे हैं सभी जिलों में । कोरोना से बचने का एक मात्र उपाय है वह वैक्सीनेशन, कोरोना किसी को हुआ भी तो उसकी जान नहीं जाएगी लेकिन इसके लिए वैक्सीनेशन कराना होगा।

अफरा-तफरी न मचे इसका विशेष ध्यान रखें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना दूसरी लहर में भयावह स्थिति देखी है। हो सकता है कि तीसरी लहर भी आए लेकिन हमे घबराना नहीं है इसका सामना करना होगा। अफरा-तफरी न मचे, कोई अपना न छूटे इसका विशेष ध्यान रखा जाए।

73 प्रतिशत हुआ वैक्सीन कम है आंकड़ा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जबलपुर जिले में वैक्सीन का दूसरा डोज 3 लाख 85 हजार 980 लोगों को दूसरा डोज लगा है। जबकि पूरे जिले में 18 लाख 60 हजार लोगों को वैक्सीशन लगना है। जिसमें पहला डोज 13 लाख 57 हजार 597 लोगों को ही लगा है। मुख्यमंत्री ने कहा 30 सितंबर तक वैक्सीनेशन शत प्रतिशत हो इसकी जिम्मेदारी अधिकारी, जनप्रतिनिधियों व आम लोगों की है।

मोबाइल वैन चलाओ करो वैक्सीनेशन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि वैक्सीनेशन शत-प्रतिशत हो इसके लिए मोबाइल वैन चलाई जाए। घर-घर तक मोबाइल वैन पहुंचाकर लोगों को वैक्सीन लगाई जाए। 30 सितंबर तक लक्ष्य को पूरा करना है और दिसंबर तक वैक्सीनेशन कार्य को बॉय बॉय करना है।

कार्यक्रम में ये थे मौजूद

प्रभारी मंत्री गोपाल भार्गव, विधायक अजय विश्नोई, सुशील कुमार इंदू तिवारी, अशोक रोहाणी, नंदनी मरावी, बरगी विधायक संजय यादव, विनय सक्सेना, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मनोरमा पटेल, पूर्व राज्यमंत्री हरेंद्र सिंह बब्बू, शरद जैन, अंचल सोनकर, स्वाती गोडबोले, सुमित्रा महाजन, जीएस ठाकुर सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।