समय पर करें प्रकरणों का निराकरण, अन्यथा अधिकारी होंगे जिम्मेदार – हर्षिका सिंह

Scn news india

शारदा श्रीवास ब्यूरों मंडला 

मंडला-राजस्व अधिकारियों की बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि राजस्व न्यायालयों में चल रहे प्रकरणों का समय सीमा में निराकरण करें। प्रकरणों के निराकरण में अनावश्यक किये जाने पर संबंधित अधिकारी व्यक्तिशः जिम्मेदार होंगे। 6 माह से अधिक कोई भी प्रकरण लम्बित नहीं रहना चाहिये। उन्होंने कहा कि प्रत्येक राजस्व अधिकारी प्रत्येक कार्यदिवस में कम से कम 20 प्रकरणों का निराकरण करें, अन्यथा की स्थिति में संबंधितों का अवैतनिक दिवस घोषित करने की कार्यवाही की जायेगी। वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित इस बैठक में अपर कलेक्टर मीना मसराम सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।
कलेक्टर हर्षिका सिंह ने प्रकरणवार समीक्षा करते हुये कहा कि अनेक राजस्व न्यायालयों में प्रकरणों को अनावश्यक रूप से लम्बित रखा जा रहा है जो कतई स्वीकार नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि एक वर्ष से अधिक समय से लम्बित प्रकरणों को चरणबद्ध रूप से निराकृत करने की कार्यवाही करें। एक वर्ष से अधिक समय से लम्बित प्रकरणों के निराकरण के लिये उन्होंने समय सीमा निर्धारित की। उन्होंने कहा कि जो आदेश जारी हो रहे हैं उन्हें तत्काल ऑनलाईन करें। कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि शासकीय भूमि से अतिक्रमण हटाने के लिये नियमानुसार कार्यवाही करें। अतिक्रमणों को चिन्हित कर दो दिवस में उनकी जानकारी प्रस्तुत करें। जहां भी सरकारी भूमि पर अतिक्रमण होता है वहां संबंधित राजस्व निरीक्षक तथा पटवारी के विरूद्ध कार्यवाही प्रस्तावित की जाये। श्रीमति सिंह ने निर्देशित किया कि सीएम हेल्पलाईन प्रकरणों का समय पर संतुष्टिपूर्वक निराकरण करने का प्रयास करें। मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के प्रकरणों का प्राथमिकता से निराकरण करें, कोई भी पात्र हितग्राही योजना के लाभ से वंचित नहीं रहना चाहिये। स्वामित्व योजना की समीक्षा की दौरान कलेक्टर ने कैलेण्डर बनाकर कार्य करने के लिये निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि राजस्व वसूली के लिये विशेष शिविरों का आयोजन करें। इस संबंध में 15 सितम्बर तक संतोषजनक प्रगति होने पर ही संबंधितों का वेतन आहरित करें। कलेक्टर ने 25 एवं 26 सितम्बर को होने वाले वैक्सीनेशन के महाअभियान के संबंध में भी अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये।

प्रोटोकाल का पालन नहीं करने वाले दुकानदारों पर करें कार्यवाही

कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि कोविड 19 के संबंध में शासन द्वारा जारी प्रोटोकाल का सख्ती का पालन करायें। मॉस्क न लगाने वाले तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वाले व्यक्तियों पर चालानी कार्यवाही करें। सार्वजनिक स्थानों पर होने वाली भीड को रोकने कारगर कदम उठायें। उन्होंने कहा कि मॉस्क नहीं लगाने वाले तथा दुकानों में भीड एकत्र करने वाले व्यापारियों पर भी सख्त कार्यवाही करें। व्यापारियों को समझाईश दें कि वे बगैर मॉस्क लगाये व्यक्ति को किसी भी प्रकार की सामग्री का प्रदाय न करें।