मोहला-मानपुर जिले का निर्माण वनांचल के विकास के लिए साबित होगा मील का पत्थर : श्री चन्द्रेश ठाकुर

Scn news india

जन कल्यणकारी योजनाओं की उचित क्रियान्वयन के लिए प्रशासनिक विकेन्द्रीकरण को बताया आवश्यक

राजनांदगांव 20 अगस्त गोंडवाना समाज के अधिकारी-कर्मचारी प्रकोष्ठा के संभागीय अध्यक्ष श्री चन्द्रेेश ठाकुर ने कहा की राजनांदगांव जिले से अलग कर आदिवासी बाहुल्य् मोहला-मानपुर एवं अंबागढ़ चौकी विकासखण्ड को मिलाकर नये जिले का निर्माण करना वास्तव मे वनांचल के विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा। श्री ठाकुर ने कहा की प्रशासनिक विकेन्द्रीकरण होने से आम लोगों को सहुलियत मिलने के साथ-साथ विकास कार्यों के सतत् मॉनिटरिंग होने से जनकल्यााणकारी योजनाओं का उचित क्रियान्वटयन भी हो सकेगा। जिससे इस आदिवासी अंचल के अंतिम पंक्ति के लोगों तक विकास की किरण आसानी से पहुंच सकेगा। उन्होंने कहा की इस अंचल के लोगों के द्वारा जिला मुख्यािलय राजनांदगांव से मोहला-मानपुर क्षेत्र की दूरी तथा भौगोलिक एवं क्षेत्रीय विविधताओं को देखते हुए लम्बे समय से पृथक जिले की मांग की जा रही थी। वर्तमान मे मुख्यमंत्री श्री भुपेश बघेल ने क्षेत्रीय विधायक श्री इन्द्रशाह मण्डा‍वी की पहल पर एवं क्षेत्र के लोगों और जनप्रतिनिधियों की मांग पर संवेदनशीहलता से विचार करते हुए हम वनांचल के लोगों को सबसे बड़ी सौगात दी है। इसके लिए उन्होंने नये जिले वासियों की ओर से मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल एवं क्षेत्रीय विधायक श्री इन्द्रशाह मण्डायवी का आभार मानते हुए उन्हे् ह्रदय से धन्यवाद दिया।
श्री ठाकुर ने कहा की आदिवासी बाहुल्य् मोहला-मानपुर एवं अंबागढ़ चौकी का क्षेत्र वन एवं प्राकृतिक संसाधनो से परिपूर्ण है। उन्होंने कहा की यह क्षेत्र देश के अग्रणी एवं प्रख्यापत आदिवासी नेता कर्मवीर स्व. लालश्याम शाह की पावन कर्मभूमि रही है। जो आदिवासीयों एवं इस अंचल के हितों की रक्षा के लिए सांसद एवं विधायक के पद से बार-बार त्यागपत्र देने के कारण कभी भी अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाते थे। साथ ही यहां के पहले विधायक स्व्. श्री सुजानी राम भी प्रमुख स्वयतंत्रता संग्राम सेनानियों मे से एक थे। इस अंचल के निवासीयों ने देश, प्रदेश, जिले व समाज के विकास मे अपनी अमूल्य सहभागिता निभाई है।
उन्हो ने कहा की निश्चिात रूप से राज्य सरकार के द्वारा इस अंचल के सीधे-साधे, मेहनतकश आदिवासीयों एवं सुदूर वनांचल के लोगों के जरूरतों को समझते हुए नये जिले की सौगात दी है, वह काबिले-तारीफ है। हम सभी आशा ही नहीं अपितु विश्वास करते हैं की सभी के सहयोग से मोहला-मानपुर एवं अंबागढ़ चौकी जिला निरंतर प्रगति के सपनो को तय करते हुए विकास की नयी ईबारत लिखेगा।