पति को छुड़ाने पत्नी व परिवार ने किया चक्का जाम

Scn news india

संवाददाता सुनील यादव कटनी 

पीरबाबा दरगाह में हुई चोरी के मामले में जेल में बंद पति को बेगुनाह बताते हुए पत्नी व परिवार के अन्य सदस्यों के द्वारा आज गुरुवार को कलेक्ट्रेट के सामने चक्का जाम किया गया।

परिवार के सदस्यों ने प्रशासन और पुलिस को पूर्व में ही चक्का जाम व आत्मदाह किया जाने की लिखित सूचना दे दी थी।
इस संबंध में कुठला थाना क्षेत्र के ग्राम खरखरी निवासी सीताबाई यादव ने बताया कि उसके पति गंगाराम यादव डाबर फैक्ट्री में काम करते हैं।

चोरी की रात भी वह कंपनी में नाइट ड्यूटी कर रहे थे।
महिला ने बताया कि रात्रि करीब 1:30 से 2 के बीच पति के पास प्रदीप उर्फ मंजू पटेल का फोन आया और उसने कहा कि कुछ लोग मेरे साथ मारपीट कर रहे हैं।

सीताबाई ने बताया कि वहां जब पति पहुंचा तो मामला कुछ और ही था ।
महिला के अनुसार उसके पति ने प्रदीप से पुलिस को फोन करने कहा तो उसने बताया कि बार-बार फोन लगाने के बाद भी पुलिस नहीं आ रही है।

सीताबाई ने बताया कि दूसरे दिन झिंझरी पुलिस चौकी से पति को फोन आया और उसे चोरी के मामले में झूठा फंसा दिया गया है ।
परिवार के सदस्य लिखित शिकायत देकर सीसीटीवी कैमरे की रिकॉर्डिंग देखने की मांग कर रहे हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही।

आज गुरुवार को दोपहर में परिवार के सदस्यों ने पहले चक्का जाम और फिर आत्मदाह का प्रयास किया ।
मौके पर पहुंचे माधवनगर टीआई विजय विश्वकर्मा और पुलिस बल ने समझा-बुझाकर चक्का जाम हटाया और आत्मदाह का प्रयास भी विफल कर दिया।