साँसे कमजोर पड़ने लगी डायल 100 सेवा की,रखरखाव के आभाव में कंडम हो रहे वाहन

Scn news india

रोहित नैय्यर ब्यूरों  जबलपुर 

कानून व्यवस्था बनाने और पलक झपके आम नागरिकों तक मदद पहुंचाने वाली डायल 100 सेवा की साँसे कमजोर पड़ने लगी हैं,जबलपुर में आम नागरिकों की सुविधा के लिए संचालित किए जा रहे एफआरवी वाहनो की यह हालत मेंटेनेंस के आभाव में हुई है। कंडम हो चुके एफआरवी वाहनों के मेंटेनेंस की ओर जिम्मेदार अधिकारियों का ध्यान ही नहीं जा रहा है,दरअसल लंबे समय से गैराज मे खड़े एफआरवी वाहनों का रखरखाव न होने से ये कंडम हो गए हैं, किसी भी घटना दुर्घटना में एक कॉल करने पर तत्काल मोके पर पहुँचकर रिस्पांस देने वाले वाहन लोगों के लिए संजीवनी का काम करते थे ,लेकिन अब इन कंडम हो चुके वाहनों को स्वयं मरम्मत की जरूरत है,एफआरवी वाहनों के खराब होने से आमजनों को डायल 100 सेवा का लाभ समय पर नही मिल पा रहा है।

जितेंद्र पटेल — एसपी रेडियो जबलपुर

दरअसल जबलपुर जिले में कुल 45 एफआरवी वाहन है जो किसी भी अपराधिक घटना की सूचना मिलने पर तत्काल कार्रवाई करने पहुंचते थे,लेकिन अब इनकी हालत किसी कंडम वाहन से कम नहीं है, 45 एफआरवी वाहनो में से 5 वाहन तो पूरी तरह से खराब है जो लंबे समय से बंद पड़े हैं ,जबकि ऐसे कुल वाहनों की संख्या 13 है जो अब सड़कों से पूरी तरह गायब हो चुके है,इसके लिए पुलिस विभाग द्वारा ठेका कंपनी को बार-बार पत्र लिखा गया है,लेकिन अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए है,वहीं इस पूरे मामले में जबलपुर में डायल 100 के प्रभारी और रेडियो एसपी की माने तो एफआरवी वाहन खराब होने से सुविधाओं में कमी आई है,जिसे विभागीय स्तर पर सुधारने कोशिश की जा रहीहै।