सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों का सन्तुष्टि पूर्वक करें निराकरण – कलेक्टर प्रकरणों का गुणवत्तापूर्ण करें निराकरण

Scn news india

कामता तिवारी
संभागीय ब्यूरो रीवा
Scn news india

रीवा- कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों के निराकरण के प्रगति की सघन समीक्षा करते हुये कहा कि समस्त जिला अधिकारी सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों का निराकरण संतुष्टिपूर्वक एवं गुणवत्तापूर्ण करें। प्रकरणों का निराकरण करते समय आवेदक से बात करके उसके सन्तुष्ट होने पर ही शिकायत बंद करें। कोई भी विभाग बिना उचित कारण के प्रकरणों का फोर्स क्लोजर न करें। बैठक में श्यामशाह चिकित्सा महाविद्यालय द्वारा सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों के निराकरण में विशेष रूचि न लेने पर अधिष्ठाता डॉ. मनोज इंदुलकर को स्पष्टीकरण नोटिस जारी करने के निर्देश दिये गये। कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एमएल गुप्ता को स्वास्थ्य केन्द्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं अस्पताल भवन की गुणवत्ता बनाये रखने के लिये समय-समय पर निरीक्षण न करने पर कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने के निर्देश दिये। कलेक्टर आज समय सीमा पत्रों की सघन समीक्षा कर रहे थे। बैठक में नगर निगम आयुक्त मृणाल मीणा, जिला पंचायत के सीईओ स्वप्निल वानखेड़े सहित समस्त जिला अधिकारी उपस्थित थे।

कलेक्टर ने निर्देश दिये कि सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों के निराकरण में विशेष रूचि न लेने के कारण प्रदेश में रीवा जिले की ग्रेडिग गिर रही है। समस्त जिला अधिकारी 20 अगस्त शुक्रवार तक सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों के निराकरण का विशेष अभियान चलाकर जिले की ग्रेडिग में अपेक्षित प्रगति लाये। उन्होंने कहा कि हर हाल में सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों का उच्च प्राथमिकता के आधार पर निराकरण करें।
कलेक्टर ने समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम के अन्तर्गत प्राप्त प्रकरणों का निराकरण करने के लिये कहा। उन्होंने कहा कि समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम में 800 शिकायतें लंबित है। इनका प्राथमिकता के आधार पर निराकरण किया जाय।
कलेक्टर ने निर्देश दिये कि जिले में मिलावट से मुक्ति अभियान चलाकर मिलावट खोरों के विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही करें। स्वास्थ्य विभाग के फूड एवं ड्रग अधिकारी मिलावट खोरों के विरूद्ध सतत अभियान चलाये। उन्होंने ईवीएम गोडाऊन की छत में हो रहे पानी के रिसाव की शीघ्र मरम्मत करने के निर्देश दिये। बैठक में विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।