जिले की 15 शासकीय शालाओं में व्यवसायिक प्रशिक्षक की भर्ती के लिये ऑनलाईन आवेदन पत्र आमंत्रित

Scn news india

नितिन जैस्वाल ब्यूरों छिंदवाड़ा 

छिन्दवाड़ा -लोक शिक्षण संचालनालय म.प्र.भोपाल द्वारा शैक्षणिक सत्र 2021-22 से नवीन व्यवसायिक शिक्षा के अंतर्गत आई.टी. क्षेत्र में प्रशिक्षण के लिये छिन्दवाड़ा की सत्यम सतपुड़ा समाज सेवा समिति को छिन्दवाड़ा जिले की 15 शासकीय उच्चतर माध्यमिक शालाओं को आवंटित किया गया है। इन शासकीय शालाओं में व्यवसायिक प्रशिक्षक की भर्ती के लिये समिति द्वारा आगामी 17 अगस्त तक वेबसाईट www.satyamsatpuda.in पर ऑनलाईन आवेदन पत्र आमंत्रित किये गये है। इच्छुक पात्र व्यक्ति निर्धारित तिथि तक ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं।
सत्यम सतपुड़ा समाज सेवा समिति के सचिव श्री अरविंद सिंह गौतम ने बताया कि लोक शिक्षण संचालनालय म.प्र.भोपाल द्वारा जिले के विकासखंड छिन्दवाड़ा, मोहखेड़, परासिया, जुन्नारदेव, पांढुर्णा व चौरई के शासकीय उच्चतर माध्यमिक उत्कृष्ट विद्यालय, विकासखंड सौंसर के ग्राम रामाकोना के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, छिन्दवाड़ा नगर के शासकीय महारानी लक्ष्मी बाई कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, विकासखंड जुन्नारदेव के ग्राम घोड़ावाड़ी खुर्द के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, विकासखंड मोहखेड़ के ग्राम बीसापुरकला व महलपुर के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, विकासखंड चौरई के ग्राम टाप के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, विकासखंड पांढुर्णा के ग्राम तिगांव के शासकीय संजय गांधी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय व ग्राम पाठई के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तथा विकासखंड तामिया के ग्राम देलाखारी के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में आई.टी. सेक्टर में व्यवसायिक शिक्षण के संचालन की अनुमति प्रदान की गई है और इस कार्य के लिये अनुबंधित किया गया है।
सत्यम सतपुड़ा समाज सेवा समिति के सचिव श्री गौतम ने बताया कि अनुबंधित शासकीय शालाओं में समिति द्वारा वोकेशनल ट्रेनर्स के पद के लिये आवेदन पत्र आमंत्रित किये जा रहे है। इस पद के लिये आवेदक को कम से कम व्यवसायिक शिक्षण के क्षेत्र में एक वर्ष के कार्य और अध्यापन का अनुभव होना चाहिये तथा अंग्रेजी व स्थानीय भाषा में प्रशिक्षित करने के साथ ही विभिन्न वैज्ञानिक उपकरणों, औजारों आदि सामग्री, स्वास्थ्य सुरक्षा एवं स्वच्छता आदि की जानकारी होना चाहिये। आवेदक के पास कम्प्यूटर साईंस का डिप्लोमा या आई.टी. डी.सी.ए./बी.सी.ए./बी.एस.सी. (कम्प्यूटर/आई.टी.) में स्नातक के साथ ही पी.जी.डी.सी.ए. या डी.ओ.ई.ए.सी.सी. का ए लेवल का सर्टिफिकेट होना चाहिये। आवेदक को प्रतिमाह 20 हजार रूपये का वेतन दिया जायेगा।