भोपाल में 5 पेट्रोल पंप संचालकों को नोटिस

Scn news india

हर्षिता वंत्रप 

भोपाल-कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया के आदेश पर गुरुवार को जिले के पांच पेट्रोल पंप की जांच की गई और सर्वोच्चय न्यायालय के निर्देश के बाद भी पेट्रोल पंप पर प्रदूषण जांच केंद्र स्थापित नही करने पर कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया है।

   जिला आपूर्ति नियंत्रक भोपाल  निर्देशन में भोपाल जिले में मोटर स्पिरिट और उच्च वेग डीजल प्रदाय तथा वितरण का विनियमन और अनाचार निवारण आदेश 2005 के प्रावधानों का पालन करने एवं सर्वोच्च न्यायालय  द्वारा पारित आदेश के पालन में  समस्त अनुज्ञप्ति धारियों को प्रदूषण नियंत्रण केन्द्र (यानि पी.यू.सी. सेन्टर  की स्थापना के संबंध में दिये गये आदेश का पालन सुनिश्चित कराने के संबंध में  अलग अलग पेट्रोल पंप की जांच की गई।

   खाद्य विभाग के अमले ने मेसर्स एल.एन.साहू फ्यूल सर्विस बीपीसीएल पिपलिया जहारपीर भोपाल, मेसर्स यू.के.टी. इंटरप्राईजेस बीपीसीएल मंडीदीप रोड भोपाल,

मेसर्स मारूती नंदन ऑटो सर्विस बीपीसीएल खजुरीकला बायपास भोपाल, मेसर्स प्रभात सेल्स एंड सर्विस स्टेशन बीपीसीएल अशोका गार्डन भोपाल, मेसर्स खजूरी हाईवे सर्विस स्टेशन आईओसीएल खजूरी सडक भोपाल, मेसर्स करतार फिल एंड फ्लाय आईओसीएल ग्राम फंदा भोपाल एवं मेसर्स तत्पर सर्विस स्टेशन आईओसीएल बरखेडा भोपाल की जांच की गई।

     मेसर्स एल.एन.साहू फ्यूल सर्विस बीपीसीएल पिपलिया जहारपीर भोपाल, मेसर्स यू.के.टी. इंटरप्राईजेस बीपीसीएल मंडीदीप रोड भोपाल, मेसर्स मारूती नंदन ऑटो सर्विस बीपीसीएल खजुरीकला बायपास भोपाल,  मेसर्स प्रभात सेल्स एंड सर्विस स्टेशन बीपीसीएल अशोका गार्डन भोपाल एवं  मेसर्स खजूरी हाईवे सर्विस स्टेशन आईओसीएल खजूरी सडक भोपाल के पेट्रोल पम्प परिसर में पीयूसी  प्रदूषण जांच केन्द्र की स्थापना किया जाना नहीं पाये जाने के कारण संबंधितों के विरूद्ध मोटर स्पिरिट और उच्च वेग डीजल प्रदाय तथा वितरण का विनियमन और अनाचार निवारण  आदेश 2005 के प्रावधानों के अनुरूप एवं आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 के प्रावधानों के तहत ऑयल कम्पनी से अनुज्ञप्ति निरस्त करवाने तथा अभियोजन की कार्यवाही हेतु कारण बताओ सूचना पत्र जारी कर आगामी कार्यवाही हेतु प्रकरण कलेक्टर न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।