ऑल इंडिया दलित एक्शन कमिटी पार्क में नगरपालिका कार्यालय बनाने का विरोध में सौपा ज्ञापन

Scn news india

दिलीप पाल 

आमला – ऑल इंडिया दलित एक्शन कमिटी के होशंगाबाद संभाग अध्यक्ष विजय रसिया अतुलकर के नेतृत्व में तहसीलदार आमला एवं नगर पालिका अधिकारी आमला को एक ज्ञापन सौंपा गया जिसमें नगर पालिका द्वारा भीमराव अंबेडकर पार्क में नगरपालिका कार्यालय बनाने का विरोध किया गया प्रदेश मंत्री दीपक बरथे ने बताया कि अंबेडकर पार्क में कार्यालय बनने के बाद यहां हर समाज के जो धार्मिक सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं शादी-विवाह होते हैं वह होना बंद हो जाएंगे ब्लॉक अध्यक्ष मोनू पाटिल ने कहा कि नगरपालिका कार्यालय बनने के बाद डॉक्टर भीमराव अंबेडकर पार्क का बोर्ड यहां से हटा दिया जाएगा जो हम कभी बर्दाश्त नहीं कर सकते ब्लॉक उपाध्यक्ष नितिन खातरकर ने कहा कि यह बाबा साहब के नाम को हटाने की एक सोची समझी साजिश है ब्लॉक सचिव विजय पाटिल ने कहा कि हम बाबा साहब का नाम कभी हटने नहीं देंगे ब्लॉक प्रवक्ता वीरेंद्र बरथे ने कहा कि हमें भीमराव अंबेडकर पार्क को बचाने के लिए जिस हद तक लड़ाई लड़ना पड़े हम लड़ेंगे ब्लॉक मीडिया प्रभारी हरिप्रसादगोहे ने कहा कि नगर पालिका अधिकारी अपना प्रस्ताव वापस नहीं लेते हैं तो बड़े स्तर पर आंदोलन किया जाएगा और नगरपालिका घेराव किया जाएगा।

जिसमें हजारों की संख्या में डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के अनुयाई लोग शामिल होंगे इस मौके पर प्रमुख रूप से महार समाज के अलावा भी अन्य समाज के जागरूक लोग बाबा साहब के नाम की लड़ाई लड़ने में शामिल थे इसी के साथ ही बंशकार समाज के द्वारा संत शिरोमणि महाराज के लिए मंदिर बनाने की जमीन की मांग की गई और सभी ने दिल्ली में कुछ समय पूर्व दलित समाज की 9 साल की बच्ची के साथ श्मशान घाट में हुए बलात्कार और उसे तुरंत जला देने की घटना की घोर निंदा की और दोषी को फांसी की सजा देने की मांग की.

जिसमें मुख्य रूप से उपस्थित दिलीप चौकी कर छन्नू बेले जयंत गोहे ओमप्रकाश शेष कर सतीश यादव अतीक खान राजेश सूरे किशन साजने लोणारे जी मयूर माहिर गोलू पारदी सुभाष दास विजय पाटिल सूरज म्हारे लोणारे जी किशन साजने हरिशंकर साहू इसराइलशाह अकरम खान रशीद खान मयूर सुरजेकर रविशेषकर नसीम खान और सैकड़ों कमेटी के सदस्य शामिल थे पूरन बामन राकेश तायवाडे राकेश निरापुरे बबलू निरापुरे धर्मेश अतुलकर भरत रावत पप्पू सराठे अमित हुरमाडे मुख्य रूप से उपस्थित थे