मुख्यमंत्री श्री चौहान करेंगे ओलंपिक हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर को सम्मानित

Scn news india

हर्षिता वंत्रप

भोपाल -मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान गुरुवार 12 अगस्त को दोपहर 12:30 बजे मिंटो हॉल, भोपाल में ओलंपिक हॉकी खिलाड़ी विवेक सागर को सम्मानित करेंगे। उल्लेखनीय है कि टोक्यो ओलंपिक 2020 में भारतीय हॉकी टीम के सदस्य के रूप में शामिल श्री विवेक सागर ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अर्जेंटीना के विरुद्ध गोल किया था, जिसके फलस्वरूप भारतीय टीम पहले क्वार्टर फाइनल और बाद में सेमीफाइनल में पहुंच सकी। भारत को कांस्य पदक भी प्राप्त हुआ। श्री विवेक सागर मध्यप्रदेश के होशंगाबाद जिले के निवासी हैं।

हर कार्यकाल में मुख्यमंत्री ने की खिलाड़ियों की हौसला अफजाई

मध्यप्रदेश शासन की ओर से श्री विवेक सागर को सम्मान निधि भी प्रदान की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री विवेक सागर को सम्मान स्वरूप एक करोड़ रुपए की राशि देने का घोषणा की है। मध्यप्रदेश में हॉकी अकादमी के माध्यम से पुरुष और महिला हॉकी खिलाड़ियों के प्रोत्साहन के लिए अनेक कदम उठाए गए हैं। पूर्व में श्री चौहान अपने मुख्यमंत्री पद के प्रथम कार्यकाल में भारतीय महिला हॉकी टीम को अपने निवास पर भी सम्मानित कर चुके हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इसी सप्ताह टोक्यो ओलंपिक में गई भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ियों को मध्यप्रदेश सरकार की तरफ से 31-31 लाख रूपए देने की घोषणा की है। मध्यप्रदेश महिला हॉकी अकादमी में प्रशिक्षित खिलाड़ियों ने टोक्यो ओलंपिक के पहले रियो ओलंपिक में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया था। बीते वर्षों में खेलों और खिलाड़ियों के विकास के लिए मध्यप्रदेश सरकार ने अनेक सुविधाएँ विकसित की हैं। हाल ही में प्रदेश के अनेक स्थानों पर हॉकी मैदान में टर्फ बिछाने के कार्य की पहल भी की गई है।

मुख्यमंत्री ने विवेक सागर को फोन पर कहा था,”मुझे आप पर गर्व है, विवेक”

टोक्यो ओलंपिक के दौरान श्री विवेक सागर के सफलता प्राप्त करने पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने तत्काल अपनी प्रतिक्रिया में प्रसन्नता व्यक्त करते हुए श्री विवेक को फोन पर कहा था “खेलो और जीतो मध्यप्रदेश की जनता की तरफ से बधाई।“ मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दो अगस्त को मध्यप्रदेश के निवासी भारतीय हॉकी टीम के सदस्य श्री विवेक सागर को फोन कर श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए बधाई दी थी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री सागर से कहा था “आपको टोक्यो ओलंपिक में आपके और भारतीय हॉकी टीम के शानदार प्रदर्शन के लिए बहुत-बहुत शुभकामनाएँ, मुझे आप पर गर्व है और पूरा विश्वास है भारतीय हाकी टीम निरंतर सफलताएँ अर्जित करेगी। आप खेलो और जीतो, मध्यप्रदेश की जनता की तरफ से बहुत बधाई।“ मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आशा व्यक्त की थी कि भारतीय हॉकी टीम शानदार प्रदर्शन कर सफल हो। विवेक सागर ने अर्जेंटीना के विरुद्ध हॉकी ओलंपिक मैच में गोल भी किया था, जिसके फलस्वरूप भारत की टीम विजयी रही। श्री विवेक सागर के अच्छे प्रदर्शन से भारतीय टीम 3-1 से विजयी होकर क्वार्टर फाइनल में पहुँची थी। इसके बाद भारतीय टीम सेमीफाइनल तक पहुँच गई और कांस्य पदक प्राप्त कर सकी।

कोच भी होंगे सम्मानित, अनेक खिलाड़ी रहेंगे मौजूद

मुख्यमंत्री श्री चौहान 12 अगस्त को भारतीय हॉकी टीम के प्रशिक्षक श्री अशोक कुमार, सहायक कोच श्री शिवेन्द्र सिंह को भी सम्मानित करेंगे। खेल एवं युवा कल्याण विभाग ने कार्यक्रम की तैयारियां पूरी कर ली हैं। प्रदेश के विभिन्न खेलों के प्रतिभावान और प्रशिक्षु के साथ ही विभिन्न खेलों के अनेक पदक प्राप्त खिलाड़ी भी कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे।

मध्यप्रदेश में प्रत्येक खेल को प्रोत्साहन

मुख्यमंत्री श्री चौहान का मानना है कि श्री विवेक सागर ने मध्यप्रदेश का यश बढ़ाया है। प्रदेश में खिलाड़ियों के प्रोत्साहन की नीति के कारण अनेक प्रतिभाएँ राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतर प्रदर्शन कर रही हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने खिलाड़ियों को भरपूर प्रोत्साहन दिया है। इसी क्रम में भारतीय पुरुष हॉकी टीम द्वारा टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने पर टीम को बधाई देते हुए टीम के श्री विवेक सागर सहित मध्यप्रदेश हाकी अकादमी के श्री नीलकांता शर्मा को सम्मान निधि के रूप में एक-एक करोड़ रूपये का पुरस्कार प्रदान करने की घोषणा की थी। इसका त्वरित अमल भी हो रहा है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान का मानना है कि टोक्यो ओलंपिक में प्राप्त कांस्य पदक केवल पदक ही नहीं है, अपितु भारतीय हॉकी का पुनर्जागरण है। भारतीय हॉकी टीम ने दुनिया की श्रेष्ठ टीमों न्यूजीलैंड, स्पेन, अर्जेंटीना, ग्रेट ब्रिटेन, जर्मनी, जापान को परास्त कर यह सम्मान प्राप्त किया है। मध्यप्रदेश के लिए विशेष रूप से यह गर्व की बात है। श्री नीलकांता भी मध्यप्रदेश हॉकी अकादमी से चयनित होकर गए थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राज्य सरकार द्वारा टोक्यो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता संपूर्ण हॉकी टीम का भी सम्मान और स्वागत करने की घोषणा की है। मध्यप्रदेश में 18 खेल अकादमियाँ संचालित हैं। गाँवों की खेल प्रतिभाओं को भी प्रोत्साहित किया गया है।

एकलव्य अवार्ड से सम्मानित हैं श्री विवेक सागर

श्री विवेक सागर होशंगाबाद जिले की इटारसी तहसील के ग्राम शिवनगर चांदौन में मध्यम वर्गीय परिवार में जन्मे हैं। इनके पिता श्री रोहित प्रसाद शिक्षक हैं। श्री विवेक सागर ने वर्ष 2018 में फोर नेशंस टूर्नामेंट, कॉमनवेल्थ गेम्स, चैम्पियन ट्राफी, यूथ ओलंपिक, न्यूजीलैंड टेस्ट सीरीज, एशियन गेम्स तथा वर्ष 2019 में अजलान शाह हॉकी टूर्नामेंट, आस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज और फाइनल सीरीज भुवनेश्वर जैसी अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया। एशियाड 2018 में भारत को कांस्य पदक दिलाने वाली भारतीय टीम में शामिल मिडफिल्डर हॉकी खिलाड़ी श्री विवेक सागर 62 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं। श्री विवेक सागर को वर्ष 2018 में मध्यप्रदेश शासन ने एकलव्य अवार्ड से सम्मानित भी किया है।