निर्भया की सातवीं बरसी आज-पूरा देश खड़ा सम्मान में

Scn news india

वो काली रात आज भी झकझोर देती है , सिहर उठता है बदन जब याद 16 दिसंबर 2012…की  यह तारीख  आती है। आज भी लोगों के जेहन को कुरेद जाती है। नमन है उस बेटी को जिसके बलिदान ने पुरे भारत को एक सूत्र में पिरो दिया।  करोड़ों लोगो को महिला सुरक्षा के प्रति सख्त कानून बनवाने के लिए सड़कों पर ला कर खड़ा कर दिया। आज निर्भया तो नहीं रही पर पूरा देश उसके साथ खड़ा है। सही मायने में निर्भया को सच्ची श्रद्धांजलि तब होगी जब ऐसी घटना की पुनरावृति ही ना हो , और देश में ऐसी घटनाओं के लिए सख्त कानून हो , जिसमे ऐसे मामलों को स्पेशल न्यायिक प्रक्रिया के तहत फास्ट्रैक कोर्ट में केवल 3 से 6 माह में फैसले आये और दोषियों की रूह सजा सुन कर काँप जाए।

इसी दिन वसंत विहार इलाके में निर्भया के साथ दरिंदगी हुई थी। बेटी को न्याय दिलाने के लिए निर्भया का परिवार ही नहीं, बल्कि पूरा देश दोषियों को जल्द फांसी देने की मांग कर रहा है। निर्भया की मां ने साफ कहा कि वह अन्य बेटियों के लिए भी अपनी लड़ाई जारी रखेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.