डीपीएम को नोटिस जारी कर सात दिवस का वेतन काटा जाएगा : कलेक्टर श्री रत्नाकर झा

Scn news india

गणेश शर्मा ब्यूरों कटनी

डिंडोरी -कलेक्टर श्री रत्नाकर झा ने डीपीएम श्री विक्रम सिंह ठाकुर को कारण बताओ नोटिस जारी कर सात दिवस का वेतन काटने और जिला आपूर्ति अधिकारी श्री आर.एम. सिंह को भी नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। उन्हें उक्त नोटिस विभागीय कार्यों में लापरवाही बरतने के कारण दिया जा रहा है। कलेक्टर श्री झा सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में विभागीय कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री अरूण कुमार विश्वकर्मा, जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्रीमति अंजू अरूण विश्वकर्मा, एसडीएम डिंडौरी श्री महेश मण्डलोई, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रमेश मरावी, जिला समन्वयक सर्व शिक्षा अभियान श्री राघवेन्द्र मिश्रा, कार्यलपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग श्री एम.एस. धुर्वे, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग श्रीमति मंजूलता सिंह, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग डॉ. संतोष शुक्ला सहित जिला एवं जनपद स्तरीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।
कलेक्टर श्री रत्नाकर झा ने सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का संतुष्टिपूर्वक निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का निराकरण लेवल-1 एवं लेवल-2 पर ही करना सुनिश्चित करें। शिकायतकर्ताओं से संपर्क करें, और उनकी शिकायतों का निराकरण करें। कलेक्टर श्री झा ने सीएम हेल्पलाईन में स्वास्थ्य विभाग में लंबित 300 दिवस तक लंबित शिकायतों का निराकरण करने के निर्देश दिए। सीएम हेल्पलाईन में दर्ज शिकायत गर्भवती महिला एवं डॉक्टरों का विवाद का एसडीएम डिंडौरी को जांच कर निराकरण करने को कहा। कलेक्टर श्री रत्नाकर झा ने कहा कि जिले के स्वास्थ्य केन्द्रों में मरीजों को अस्पताल की ही दवाईयां दें। कलेक्टर श्री झा ने जिले में एक जिला एवं एक उत्पाद के लिए बैगानी अरहर का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने नर्मदा नदी के दोनो किनारों में किये जा रहे वृक्षारोपण कार्य को गुणवत्तापूर्वक पूरा करने को कहा। वृक्षारोपण में विभिन्न प्रजातियों के पौधे जैसे-आम, आंवला, नीम, अमरूद, कटहल, जामुन लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण में लापरवाही बरतने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
कलेक्टर श्री रत्नाकर झा ने जिले में आयोजित रोजगार मेलों में चयनित आवेदकों की समीक्षा की। उन्होंने जिला रोजगार अधिकारी को रोजगार मेले के माध्यम से जिले के बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री रत्नाकर झा ने जिले के सभी स्कूलों एवं ग्राम पंचायतों के सभी शासकीय भवनों तक के पहुंच मार्ग को दुरूस्त करने को कहा। जिससे स्कूलों और शासकीय कार्यालयों तक आवागमन की सुविधा सुगम हो सके। उन्होंने जिले में संचालित जल जीवन मिशन की स्थिति के संबंध में भी समीक्षा की। लोगों के लिए घर-घर तक पेयजल पहुंचाने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री झा ने पशु चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं विभाग के डॉक्टरों की उपस्थिति का राजस्व विभाग के अधिकारियों से सत्यापन कराने के निर्देश दिए। सत्यापन के बाद उपस्थिति के आधार पर डॉक्टरों के वेतन का भुगतान करें।
मुख्य नगर पालिका अधिकारी डिंडौरी ने बताया कि त्र्यंबकेश्वर मंदिर की भूमि में शासकीय कर्मचारियों के द्वारा कब्जा कर भवन का निर्माण किया गया है। कलेक्टर श्री रत्नाकर झा इस पर कार्रवाई करते हुए त्र्यंबकेश्वर मंदिर की भूमि से तत्काल अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री झा ने जिले के उचित मूल्य की दुकानों को साफ-सुथरा रखने के निर्देश दिए। उचित मूल्य की दुकानों में भण्डारण तथा खाद्यान्न वितरण का क्रियान्वयन बेहतर ढंग से किया जाए। उन्होंने कहा कि जिले में बेहतर रूप से उचित मूल्य की दुकानों का संचालन करने वाले सेल्समेनों को 15 अगस्त को सम्मानित किया जाएगा। कलेक्टर श्री झा ने आयोजित बैठक में सुकन्या समृद्धि योजना, मत्स्य विभाग, गणवेश वितरण, पाठ्य पुस्तक वितरण, आंगनबाडी केन्द्रों में सोलर पेनल लगाने तथा विद्यार्थियों को छात्रवृति वितरण के संबंध में समीक्षा की।