तथाकथित जालसाज ब्लैक मेल करने वाले गिरफ्तार हुए फर्जी पत्रकारों के एक एक करके हो रहे खुलासे

Scn news india

जबलपुर ब्यूरो रोहित नैय्यर

जबलपुर हाल ही में पकड़े गए 09 पत्रकार गिरहों के एक एक करके कई जालसाजी और ब्लैकमेलिंग करने के मामले उजागर हो रहे है,,जहां  इनके द्वारा किसी न किसी तरह ब्लैकमेल हुए पीड़ित इनके विरुद्ध थाने में शिकायत दर्ज करवा रहे है,,

मदन महल थाना क्षेत्र से हुआ था फर्जी गिरोह का पर्दाफाश जहा अंजनी विहार कॉलोनी में एक महिला के घर अचानक फर्जी पत्रकार गिरोह ने छापा मारते हुए महिला और वहां मौजूद युवक से मारपीट की और उनके रुपये छीन लिए गए साथ ही 1 लाख रुपये की मांग की गई थी,,वही फर्जी गिरोह में शामिल जेपी सिंह, संतोष जैन,अरुण गुप्ता, अर्पित ठाकुर,अंकित श्रीवास्तव,गौरव ,बबला,शैलेन्द्र गौतम,विवके मिश्रा,प्रेम लोधी,कोमल पटेल,द्वारा 1 लाख की मांग कर नही देने पर वीडियो वायरल करने की धमकियां दी गयी,वही रुपये न मिलने पर फर्जी गिरोह ने सोशल मीडिया पर युवती का अप्पति जनक वीडियो वायरल कर दिया, जहा शिकायत पर मदन महल पुलिस ने 09 फर्जी पत्रकारों को गिरफ्तार कर मामला दर्ज कर जेल भेज दिया, वही इनके अन्य साथी फरार बताये जा रहे है जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।

तथाकथित फर्जी पत्रकारों द्वारा लोगो को ब्लैकमेलिंग करने के लिए महिलाओ और लड़कियों का भी उपयोग किया जाता था ,जिसमे महिलाओ और लड़कियों द्वारा लोगो को अपने जाल में फसा कर इनके द्वारा लाखो रुपये की मांग की जाती थी,इनका नेटवर्क जिले से बाहर भी फैला हुआ था,जहा ये अवैध वसुली भी किया करते थे,कभी ये अपने आपको क्राइम ब्रांच तो कभी पत्रकार बनकर लोगो को धमकाते थे।

इस मामले में एएसपी रोहित काशवानी ने बताया कि गिरफ्तार हुए फर्जी पत्रकारों द्वारा कई लोगो के साथ धोखाधड़ी ,ब्लैकमेलिंग,जमीन में कब्जा,मारपीट कर रुपये छीनना,मकान पर जबरन कब्जा करने जैसे मामलो पर विभिन्न थानों में शिकायते दर्ज हुई है,,वही इनके द्वारा सरकारी नॉकरी लगवाने के नाम पर भी ठगी की गई है,,जहा इस मामले आगे की जांच की जा रही है,