सागर शहर भू माफियाओं के कब्जे में

Scn news india

शिवम् सागर 

मध्य प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान भले ही पूरे प्रदेश में भू माफिया और गुंडागर्दी के खिलाफ अभियान चला रहे हो और कई जिले ऐसे हैं जहां पर कार्रवाई नजर होती हुई आ रही है लेकिन सागर जिला एक ऐसा छोटा जिला है जहां पर नगरी निकाय विकास मंत्री भूपेंद्र सिंह के होते हुए भी उनके बंगले से महेश 3 किलोमीटर की दूरी पर कॉलोनी वासी और शिवसेना को धरना देने के लिए बाध्य होना पड़ा देखा जाए तो कॉलोनाइजर की गलती के कारण पार्क की जमीन पर अवैध कब्जा जमाए भूमाफिया की लगातार कॉलोनी वासी और शिवसेना ने मिलकर कई आवेदन जिला प्रशासन को सौंपे है.

इसके बावजूद भी इन पर किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की गई जिसको लेकर शिवसेना ने आज मकरोनिया ज्योति नगर में एक दिवसीय धरना रखा जहां उनकी मुख्य मांग है कि इस अधिग्रहण भूमि को जल्द से जल्द भू माफियाओं के कब्जे से छुटकारा मिले शिवसेना के प्रमुख पप्पू तिवारी द्वारा क्षेत्रीय विधायक प्रदीप लारिया के ऊपर गंभीर आरोप भी लगाए गए उनका साफ तौर पर कहना है कि जहां प्रदेश की मुखिया शिवराज जी या नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री जी लगातार कार्यवाही कर रहे हो लेकिन यहां के क्षेत्रीय विधायक का इस प्रकार का रवैया साफ तौर पर प्रशासन की मिलीभगत का कारण है जब उनसे सवाल पूछा गया क्या यह राजनीतिक दबाव के कारण इस पर कार्रवाई नहीं की जा रही है तो उनका साफ तौर पर कहना है कई मंत्री कई अधिकारियों के फोन लगातार उनको धमकाने के लिए आ रहे हैं अब देखना होगा इस भू माफियाओं के जंगल से कॉलोनी वासियों को राहत मिल पाती है या सिर्फ वाह वाही लूटने के लिए या फॉर्मेलिटी पूरी करने के लिए अधिकारी मौके पर पहुंचे ।