साँची दूध में नकली दूध मिलाने वाले नेटवर्क को क्राइम ब्रांच ने पकड़ा , टेंकर छोड़ हुए फरार

Scn news india

मनोहर

भोपाल  क्राइम ब्रांच पुलिस नकली दूध की शिकायत के बाद बड़े पैमाने पर प्रदेश के प्रतिष्ठित दूध संस्था को सप्लाई करने वाले टेंकर को जंगल में असली दूध में नकली दूध मिलावट करते रंगे हाथ धर दबोचा है और सिंथेटिक दूध  के काले कारोबार का ख़ुलासा किया है।  बता दे की दूध माफिया मध्य प्रदेश के प्रतिष्ठित और भरोसेमंद ब्रांड सांची दूध के टैंकर से दूध चुराकर उसमें नकली दूध डाल रहे थे। क्राइम ब्रांच ने मुलताई से भोपाल आ रहे एक ऐसे ही टैंकर पर कार्रवाई की जिसमें मिलावट का खेल सालों से चल रहा था। और ब्रांडेड दूध के नाम पर लोगों को जहर पिलाया जा रहा था।

जानकारिनुसार भोपाल  क्राइम ब्रांच पुलिस को खबर मिली थी कि मुलताई से 20 हजार लीटर दूध लेकर निकलने वाले टैंकर में कुछ लोग रास्ते में मिलावट कर देते हैं।  ये टैंकर भोपाल स्थित प्लांट के लिए मुलताई से रवाना होता है। वहीँ  सूचना देने वाले ने यह भी बताया था कि यूरिया और गंदा पानी मिलाकर मिलावटी दूध बनाकर उसे टैंकर में मिलाया जाता है।  टैंकर का असली और शुद्ध दूध निकाल लिया जाता है।

सूचना पर जब क्राइम ब्रांच  पुलिस होशंगाबाद रोड पर बतायी गयी लोकेशन पर पहुंची तो सूचना सही निकली। एक टैंकर खड़ा मिला जिसमें कुछ लोग मिलावट का खेल खेल रहे थे।  टीम को देखते ही बाकी लोग भाग निकले बस ड्राइवर पुलिस के हाथ लगा।  मौके पर 50-50 लीटर के दूध से भरे 36 केन मिले. साथ ही बड़ी संख्या में यूरिया मिली। जो टेंकर में मिलाई जाने वाली थी। शातिर दूध माफिया गाडी की लोकेशन हेतु लगा जीपीएस सिस्टम भी कुछ देर के लिए बंद कर देते थे ,ताकि टेंकर के खड़े होने की जानकारी सिस्टम में ना आ सके।  फिलहाल इस नेटवर्क के तार कहाँ कहाँ तक जुड़े है पुलिस पता लगाने में जुटी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.