बिजली कंपनी की राजस्व सग्रहण एजेंट योजना के शुरूआती रूझान सकारात्मक,तीन दिनों में 1 लाख 80 हजार से अधिक राजस्व संग्रहण

Scn news india

बिजली कंपनी की राजस्व सग्रहण एजेंट योजना के शुरूआती रूझान सकारात्मक
शुरूआती तीन दिनों में 1 लाख 80 हजार से अधिक राजस्व संग्रहण
योग माया ने जमा कराये 102 उपभोक्ताओं के बिजली बिल

भोपाल 30 जुलाई। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा 26 जुलाई से शुरू की गई राजस्व संग्रहण एजेंट व्यवस्था के शुरूआती रूझान बताते हैं कि यह योजना बिजली कंपनी कार्यक्षेत्र में अपनी अलग जगह बना लेगी। इस योजना से एक ओर जहॉं व्यक्ति/एजेंसी/संस्था को रोजगार मिल पाएगा वहीं दूसरी ओर बिजली कंपनी को राजस्व वसूली में सहूलियत मिलेगी। योजना के शुरूआती तीन दिनों के रूझान बता रहे हैं कि 9 लोगों ने 142 से भी अधिक उपभोक्ताओं से 1 लाख 80 हजार से अधिक का राजस्व संग्रहण किया है और कंपनी द्वारा उन्हें कमीशन के रूप में 855 से भी अधिक रूपये दिये जाएंगे। योजना के अंतर्गत सबसे अच्छा प्रदर्शन भोपाल वृत्त के ग्रामीण क्षेत्र निवासी श्रीमती योग माया सक्सेना ने किया है। श्रीमती योग माया ने 102 उपभोक्ताओं से 89 हजार से अधिक की बिजली बिल राशि जमा की है और उन्हें 505 रूपये कमीशन प्राप्त हुआ है। इसी प्रकार ग्वालियर के नितिन मांझी ने 11 उपभोक्ताओं से 63 हजार, बैतूल के प्रवीण लोखंडे ने 14 उपभोक्ताओं से 6 हजार, होशंगाबाद के विकास जुनेजा ने 2 उपभोक्ताओं से 2 हजार, बैतूल के स्वप्निल पाल ने 8 उपभोक्ताओं से 900 रू. की राशि वसूल की है।
गौरतलब है कि भोपाल क्षेत्र के नजीराबाद ग्रामीण इलाके की रहने वाली श्रीमती योग माया सक्सेना खुशी जाहिर करते हुए बताती हैं कि वह एक गृहिणी हैं और उनके पास रोजगार का कोई विकल्प उपलब्ध नहीं था। मध्य क्षेत्र कंपनी द्वारा एक अच्छी पहल करते हुए एजेंट योजना शुरू कर उन्हें घर बैठे रोजगार उपलब्ध कराया है। वे कहती हैं कि उनके आसपास के इलाके के लोग उन्हें अच्छी तरह जानते हैं और जब वे एजेंट के रूप में बिल जमा करने के लिए लोगों के घर पहॅुंचती हैं तो लोग खुशी-खुशी बिल जमा करते हैं। इसी प्रकार ग्वालियर के नितिन मांझी का कहना है कि वे बेरोजगार थे पर अब मध्य क्षेत्र कंपनी की राजस्व संग्रहण एजेंट योजना के अंतर्गत एजेंट के रूप में बिजली बिल जमा करने का कार्य कर अपना परिवार चला रहे हैं।
मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने उम्मीद जाहिर की है कि योजना कंपनी कार्यक्षेत्र के सभी 16 जिलों में लोकप्रिय योजना साबित होगी और माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की मंशा के अनुरूप युवक/युवतियों को रोजगार के बेहतर विकल्प मिल पाएंगे साथ ही यदि कोई युवक/युवती पूरी मेहनत, लगन और निष्ठा से इस कार्य को करेंगे तो प्रतिमाह 25 से 30 हजार या उससे अधिक भी कमा सकते हैं बशर्ते उपभोक्ताओं से अच्छा व्यवहार और संवाद रखें तथा अपने आसपास के ग्रामों, मोहल्लों में घर-घर जाकर कार्य करेंगे तो योजना के बेहतर परिणाम प्राप्त हो सकेंगे।

योजना एक नजर में :
• कंपनी में पंजीकृत व्यक्ति/एजेंसी/संस्था को कंपनी के निष्ठा पोर्टल/निष्ठा मोबाइल एप पर एजेंट के रूप में बिजली बिलों का भुगतान कराना होगा।
• कंपनी द्वारा राशि रू. 5 हजार तक के बिल भुगतान पर रू. 5 प्रति बिल कमीशन दिया जाएगा।
• राशि रू. 5 हजार से अधिक राशि के बिल भुगतान पर रू. 10 प्रति बिल कमीशन दिया जाएगा।
• कंपनी द्वारा संबंधित व्यक्ति/एजेंसी/संस्था को कमीशन के अतिरिक्त जीएसटी का भुगतान भी किया जाएगा।
• बिल भुगतान कराने हेतु संख्या का कोई बंधन नहीं।

पंजीयन की पात्रता :
• आवेदक का भारतीय नागरिक होना आवश्यक।
• इच्छुक व्यक्ति/एजेंसी/संस्था का GSTIN अथवा PAN नंबर अनिवार्य।
• राष्ट्रीयकृत अथवा निजी बैंक में खाता अनिवार्य।
• इंटरनेट सुविधा युक्त एंड्रायड स्मार्ट फोन अथवा कम्प्यूटर के साथ-साथ रसीद प्रिंट करने हेतु प्रिंटर अनिवार्य।
• मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में अथवा कंपनी की अनुबंधित बाह्य स्त्रोत एजेंसी में कार्यरत व्यक्ति/कर्मचारी योजना के लिए पात्र नहीं।

पंजीयन की प्रक्रिया :
• इच्छुक व्यक्ति/एजेंसी/संस्था को कंपनी के पोर्टल portal.mpcz.in पर जाकर अपना पंजीयन कराना होगा।
• वापसी योग्य पंजीयन शुल्क राशि रू. 5 हजार कंपनी में ऑनलाइन जमा करना होगा।
• पंजीयन उपरांत कंपनी द्वारा संबंधित व्यक्ति/एजेंसी/संस्था को ईमेल पर यूजर आईडी एवं पासवर्ड उपलब्ध कराया जाएगा।

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री गणेश शंकर मिश्रा ने कहा है कि ऐसे नागरिक/एंजेसी/संस्था जो इस योजना के तहत एजेंट के रूप में कंपनी के साथ कार्य करना चाहते हैं वे कंपनी के पोर्टल portal.mpcz.in पर 26 जुलाई से अपना पंजीयन करा सकते हैं। उन्होंने कहा है कि योजना के संबंध में अधिक जानकारी के लिए नागरिक कंपनी के पोर्टल अथवा नजदीकी बिजली कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं।

म.प्र.मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड, भोपाल।