ठगी जालसाजी की घटनाओ को देखते हुए पुलिस अधीक्षक की अपील

Scn news india

जबलपुर से रोहित नैय्यर की रिपोर्ट

जबलपुर -इन दिनों ऑनलाइन ठगी और जालसाजी की घटनाएं दिनो दिन बढ़ती जा रही है ,,जिनके जैसे में आकर लोग लाखो की ठगी के शिकार हो जाते है,जबलपुर में इन दिनों ऑनलाइन की ठगी के शिकार लोगो की शिकायतों का पुलिस थाने में अंबार लगा ,,

अगर हम बात करे तो हाल ही में जालसाजो ने पुलिस को भी अपना शिकार बनाया है जहा पनागर थाना पुलिस के सिपाही थाने में ही जालसाजी के शिकार हो गए जहा जालसाजों ने नरेंद्र नामक पुलिस आरक्षक को फ़ोन करके अपने आपको जबलपुर का एडिशनल एसपी बता कर मिश्रा पेट्रोल पंप के संचालक से बात करवाने को कहा,,वही ट्रू कॉलर में एएसपी लिखा आने से आरक्षक नरेंद्र ने अपने साथी पुलिस कर्मी के साथ जाकर मिश्रा पेट्रोल पंप के संचालक प्रवीण मिश्रा से बात करवाई जहा जालसाज ने अपने आपको एएसपी जबलपुर बता कर एकाउंट नंबर देते हुए 50 हजार रुपये ट्रांसफर करने को कहा,वही पेट्रोल पंप संचालक जालसाजी की बातों में आ गया और उसने आरटीजीएस के माध्यम से 50 हजार ट्रांसफर कर दिए।

 

वही जब पेट्रोल पंप संचालक को शंका हुई तो उन्होंने जबलपुर के वरिष्ट अधिकारीयो से जानकारी ली ,जानकारी में ऐसे कोई एएसपी का न होना पाया गया,जैसी ही यह जानकारी पनागर थाना में लगी हड़कंप मच गया,वही ठगी का शिकार हुए संचालक ने इसकी शिकायत थाने में की।

साइबर सेल जुटा जांच में

वही पुलिस और पेट्रोल संचालक के साथ हुई ठगी की घटना को गम्भीरता से लेते हुए साइबर टीम और पुलिस की टीम जांच में जुट गई है।

वीओ-वही इस मामले में जबलपुर के एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने लोगो से अपील करते हुए कहा है कि जिस प्रकार से ऑनलाइन ठगी के मामले बढ़ते जा रहे है उसको देखते हुए लोगो को बहुत ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है,,किसी भी तरह से लोग अपने मोबाइल का ओटीपी,बैंक एकाउंट नंम्बर किसी को ना दे,,जिससे की ठगी का शिकार होने से बचा जा सके।वही इसकी सूचना नजदीकी थाने में दे।