प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी के खिलाफ अपमानजनक बयान पर माफी मांगे आबकारी मंत्री – डॉ रेखा मेश्राम

Scn news india

हेमंत वर्मा 
राजनांदगांव । छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा एक बार फिर अपनी फिसलती जबान को लेकर चर्चा में हैं, उन्होंने प्रेस से मिलिए कार्यक्रम के दौरान छत्तीसगढ़ भाजपा की प्रदेश प्रभारी दग्गुबती पुरंदेश्वरी को फूलनदेवी कहकर संबोधित किया, इस पर भाजपा महिला मोर्चा की पृदेश उपाध्यक्ष डा. रेखा मेश्राम ने उक्त घटना की निंदा करते हुए मंञी क्वासी लखमा के स्तीफे की मांग की है, साथ ही महिलाओ पर अभद्र टिप्पणी करने वाले मंञियो और महिलाओ को धोके मे रखने वाली सरकार को बर्खास्त करने की भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष किरण साहु, महामंञी पारुल जैन, देवकुमारी साहु व महिला मोर्चा प्रभारी सरोजनी बंजारे ने मांग की है, कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि आज महिलाएं हर क्षेत्र में अपने हुनर और कौशलसेदेश का नाम रोशन कर रही हैं, वहीं छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार आने के बाद से महिलाओं के प्रति राज्यसरकार की उदासीनतासाफ दिखाई दे रही है.राज्य सरकार में आबकारीव उद्योग मंत्री कवासी लखमा द्वारा भाजपा की वरिष्ठ महिलानेत्री और छत्तीसगढ़ प्रभारी दग्गुबती पुरंदेश्वरी को फूलनदेवी बोलकर संबोधित करना कांग्रेस सरकार की महिला विरोधी मानसिकता को दर्शाता है, एक मंत्री को मीडिया के सामने एक महिला नेता के खिलाफ ऐसे शब्दों का प्रयोग करना शोभा नहीं देता।उन्होंने कहा कि एक ओर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश की महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए सार्थक प्रयास कर रहें हैं, उनके सम्मान व स्वाभिमान के लिए निरंतर कार्य कर रहें हैं, महिलाओं को प्रोत्साहित करते हुए आज केंद्र सरकार में उन्हें मंत्री का स्थान दिया है, वहीं उनके नेतृत्व क्षमता पर विश्वास जताते हुए उन्हें कई बड़ी जिम्मेदारी दी है, वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्री भाजपा की महिला नेत्री के संघर्ष का अपमान कर रहें हैं , यह अत्यंत ही निंदनीय है, जब वे एक प्रतिष्ठित पार्टी की वरिष्ठ नेता के खिलाफ इस प्रकार मीडिया में बयानबाजी कर उनका अपमान करना महिलाओं के प्रति कांग्रेस सरकार की ओछी और संकीर्ण मानसिकता को दर्शाता है, उन्होंने न केवल पुरंदेश्वरी बल्कि उन सभी महिलाओं के स्वाभिमान को ठेस पहुंचाते हुए उनका अपमान किया है, जिन्होंने जीवन मे कड़ा संघर्ष करते हुए अपनी एक पहचान बनाई है। उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस के मंत्री कर रहे महिला का अपमान भावना बोहरा ने कहा कि सत्ता में आने से पहले कांग्रेस सरकार ने महिलाओं को लेकर कई वादे किए थे लेकिन आज तक उन्हें पूरा नही किया, विगत ढाई वर्षों में प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा के लिए कोई ठोस कदम नही उठाये गए हैं जिसके चलते महिलाओं से अपराध में दिनों – दिन वृद्धि हो रही है, महिलाओं के साथ अत्याचार, बलात्कार, हिंसा और अनाचार की खबरें प्रदेश में आम हो चुकी है, इसके विपरीत महिलाओं की सुरक्षा के लिए कदम उठाने के बदले कांग्रेस के मंत्री बयान देते हुए एक महिला का अपमान कर रहें हैं, कवासी लखमा द्वारा छत्तीसगढ़ भाजपा की प्रदेश प्रभारी दग्गुबती पुरंदेश्वरी के खिलाफ दिए गए बयान का पूरजोर विरोध करते हैं, और अपने बयान के लिए आबकारी मंत्री कवासी लखमा को माफी मांगनी चाहिये।