ओवर रोड ब्रिज की दीवार के सपोर्ट में लगे सीमेंट के ब्लॉग चंद घंटों की बारिश से ढहे , रास्ता बंद

Scn news india

 संवाददाता सुनील यादव कटनी

कटनी जिले कुठला थाना क्षेत्र के लमतारा रेलवे फाटक के ऊपर बने ओवर रोड ब्रिज की एक तरफ की दीवार की मिट्टी व दीवार के सपोर्ट में लगे सीमेंट के ब्लॉग चंद घंटों की बारिश से ढह गई और पूरा मालवा सड़क में बिखर गया जिसकी सूचना मिलते ही मौके पर कुठला थाने की पुलिस बल व एडिशन एमपी भी पहुँचे और सड़क पर हो रहे आवागमन को रोक दिया।

मौके पर पहुँचे एडिशन एसपी संदीप मिश्रा ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 43 पर मध्य प्रदेश के कटनी शहर से शहडोल मार्ग जो कटनी-प्रयाग रेलखंड में लमतरा फाटक के ऊपर बना रोड ओवर ब्रिज है जिसकी एक तरफ की दीवार बारिश की वजह से मिट्टी व उसके सपोर्ट में लगे सीमेंट के ब्लॉक गिर रहे है जिसे आवागवन भी प्रभावित हुआ है इस घटना के तुरंत बाद जबलपुर और दमोह से उमरिया और शहडोल की ओर आने जाने वाले भारी वाहन पर रोक लगा दी गई है इस घटना के बाद से इसका सीधा असर सतना, पन्ना, दमोह, जबलपुर और उमरिया की ओर से आने और जाने वाले वाहनों के आवागमन पर पड़ेगा। वही एडीशन एसपी ने यह भी बताया कि जब तक ओवरब्रिज का सुधारकार्य नही होता है तब तक जबलपुर और दमोह से उमरिया और शहडोल की ओर आने जाने वाले भारी वाहन स्लीमनाबाद – विलायतकला मार्ग से होकर गुजरेंगे। सतना-रीवा की ओर से उमरिया आने जाने वाले मैहर से बरही और पन्ना से आने वाले वाहन झुकेही से विजयराघवगढ़ होकर आवागमन करेंगे। इसके अलावा कटनी के भारी वाहन भी झुकेही से होकर जाएंगे। जबकि चार पहिया और लाइट वेट वाहनो का आवागमन लमतरा ब्रिज से 200 मीटर दूर स्थित रेल अंडर ब्रिज से किया जाएगा।..इससे पहले भी पिछले साल भी यही ओवर रोड़ ब्रिज 17 अगस्त की बारिश में क्षतिग्रस्त हुआ था और कलेक्टर कटनी ने ओवरब्रिज मरम्मत कार्य के साथ रूट चार्ट को भी मंजूरी दी थी। यह पुल हर साल बारिश की वजह से छतिग्रस्त हो रहा हैं लेकिन जिला प्रशासन सिर्फ मरम्मत कराने पर जोर दे पूरे मामले को टाल देता है लेकिन आज तक इस पुल निर्माण के लिए ठेकेदार पर किसी भी तरह की कार्यवाही नही करता यह समझ मे परे है।