दस्तक अभियान में गंभीर रूप से बीमार हर बच्चे का चिन्हांकन करें-कलेक्टर

Scn news india

दस्तक अभियान में गंभीर रूप से बीमार हर बच्चे का चिन्हांकन करें-कलेक्टर

दस्तक अभियान के लिए ब्लॉक तथा सेक्टरवार बैठक कर तैयारी करें -कलेक्टर

कामता तिवारी
संभागीय ब्यूरो रीवा
Scn news india

रीवा-कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में कलेक्टर इलैयाराजा टी ने 19 जुलाई से 18 अगस्त तक चलाए जाने वाले दस्तक अभियान के तैयारियों की समीक्षा की कलेक्टर ने कहा कि अभियान के दौरान हर घर जाकर डायरिया निमोनिया तथा अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रस्त बच्चों का चिन्हांकन करें अभियान के दौरान जन्मजात विकृतियों से पीड़ित बच्चों का भी चिन्हांकन करें शिशु मृत्यु दर पर नियंत्रण के लिए समय पर जीवन रक्षक डीपी लगाना तथा बच्चों की उचित देखभाल करना आवश्यक है माता का कम पोषित होने पर कई बच्चे जन्म से ही बीमार और कम पोषित होते हैं घर में साफ सफाई ना होने दूषित पानी तथा भोजन एवं बच्चों का सही पोषण ना होना उन्हें बार-बार बीमार करता है जिसके कारण कई बच्चों की असमय मृत्यु हो जाती है छोटी-छोटी सावधानी बरतकर इन कमियों को दूर किया जा सकता है इसके लिए स्वास्थ्य विभाग तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के मैदानी कर्मचारियों को लगातार प्रयास करने होंगे कलेक्टर ने कहा कि लोगों को स्वच्छता टीकाकरण तथा सुपोषण के लिए लगातार जागरूक करने की आवश्यकता है हमें व्यवहार परिवर्तन के लिए भी लगातार प्रयास करने होंगे दस्तक अभियान के तहत चिन्हित क्षेत्रों में हर घर जाकर 5 साल तक के बच्चों का सर्वेक्षण करें एक भी बच्चा सर्वेक्षण से छूटना नहीं चाहिए यदि कोई बच्चा कुपोषित अथवा बीमार मिलता है तो तत्काल उपचार की व्यवस्था कराएं प्रत्येक परिवार को ओ आर एस का पैकेट अनिवार्य रूप से दें जिस घर में दस्तक से पीड़ित बच्चा हो वहां ओ आर एस का अतिरिक्त पैकेट तथा दवाएं दे दस्तक अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग की जिला विकासखंड एवं सेक्टर स्तर पर समन्वय बैठक तथा प्रशिक्षण आयोजित करें अभियान की प्रगति की प्रतिदिन रिपोर्ट अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करें कलेक्टर ने कहा कि दस्तक अभियान के दौरान ओआरएस पैकेट विटामिन ए के घोल जींस की दवाएं तथा अन्य दवाओं का वितरण कराएं घर-घर जाकर कम पोषित बच्चों की पहचान कर उन्हें अतिरिक्त पूरक पोषण आहार उपलब्ध कराएं पोषण पुनर्वास केंद्र में अति कुपोषित बच्चों को भर्ती करके आवश्यक पोषण उपचार सुविधा दें यहां यदि बेड खाली रहे तो संबंधों पर कार्यवाही की जाएगी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी दवाये तथा उपचार से मां की तत्काल उपलब्ध कराएं बच्चों को कम पोषित होने तथा बार बार बीमार होने का एक प्रमुख कारण स्तनपान में लापरवाही है गर्भावस्था से ही माता को शिशु को 6 माह तक केवल स्तनपान कराने की समझाइश दें सभी अस्पतालों तथा डिलीवरी प्वाइंट में स्तनपान जागरूकता संबंधित फ्लेक्स लगाएं नवीन बस स्टैंड में शिशुओं को स्तनपान कराने के लिए साफ कक्ष का निर्माण कराएं दस्तक अभियान में आरबीएसके की टीम भी तैनात रहेगी बैठक में कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग के लंबित सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों के निराकरण की भी समीक्षा की कलेक्टर ने बीएमओ लंबित प्रकरणों के निराकरण के निर्देश दिए उन्होंने कहा कि रास्ता का अभियान तथा सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों के निराकरण की हर सप्ताह समीक्षा की जाएगी बैठक में जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ वीके अग्निहोत्री ने दस्तक अभियान के संबंध में जानकारी दी बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एम एल गुप्ता सिविल सर्जन डॉ एच पी गुप्ता जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्रीमती प्रतिभा पांडे डीपीएम अर्पिता सिंह सभी बीएमओ परियोजना अधिकारी तथा पर्यवेक्षक उपस्थित रहे।