अपडेट -विदिशा मौत का कुंआ – अभी भी 15 से 20 लोगो के दबे होने की आशंका

Scn news india

मनोहर

विदिशा – बीती रात  गंजबासौदा में हुए  भयानक  हादसे के राहत कार्य पर  प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग रात से नजर बनाये हुए है। उन्होंने 3 शव निकाले जाने की पुष्टि की है। वही 19 लोगों को सुरक्षित निकाल अस्पताल पंहुचाने की बात पर भी मुहर लगाईं है। किन्तु ग्रामीणों के अनुसार अभी भी मलबे  में लगभग 15 से 20 लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। कुंए में 25 फिट लगभग पानी होने से पानी दूसरा गद्दा खोद निकला जा रहा है।

रात से ही NDRF  -SDRF की टीम और प्रशासन राहत और बचाव कार्य में जूटा हुआ है। प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो घटना शाम लगभग 6 बजे की है। बच्चे को बचाने गाँव के 3 युवक पहले कुंए में कूदे थे। लेकिन बच्चा नहीं मिला तो फिर भीड़ जमा होने लगी तकरीबन 40 से 50 लोग कुंए के स्लेब पर खड़े हो गए। जिससे वजन से स्लेब के साथ मुंडेर भी धसक गई।  और लोग मलबे में दब गए।  सुचना के बाद लगभग 8 बजे बचाव दल मौके पर पंहुचा।

चूँकि दत्तक बेटियों के विवाह समारोह में शामिल होने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी विदिशा में ही थे जो सुचना मिलते ही प्रशासन को तत्काल मौके पर भेज खुद मॉनिटरिंग कर मामले पर नजर बनाये रखी।

अभी   3 शव निकाले गए है।  चूँकि कुंए से पानी भरा होने से राहत कार्य में बाधा आ रही थी जिसे खाली कराया जा रहा है। वही लोगों के अब सब्र जा बाँध टूटने लगा है। लोग प्रशासन के खिलाफ गुस्से में है। आरोप है की यदि सहायता जल्द मिलती तो लोगो को बचाया जा सकता था।