पालीथीन पर पाबंदी को लेकर ”वादा करें…..” अभियान की शुरूआत, व्यापारियों की बैठक में दी जानकारी

Scn news india


हर्षिता वंत्रप 

नगर पालिका के सभाकक्ष में नगर के व्यापारिक संघों की बैठक, शॉपिंग सेंटर क्षेत्र को सिंगल यूज प्लास्टिक से करेंगे मुक्त।
सारनी। सिंगल यूज प्लास्टिक पर पाबंदी और पॉलीथीन के उपयोग को रोकने के लिए शासन स्तर पर जन जागरूकता अभियान ”वादा करें…” शुरू किया गया है। अभियान के पहले दिन गुरूवार  को नगर पालिका सारनी के सभाकक्ष में व्यापारी संघों और व्यापारियों की बैठक लेकर उन्हें पॉलीथीन का उपयोग नहीं करने की जानकारी दी गई। व्यापारियों को बताया गया कि प्लास्टिक के उपयोग पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया गया है। उनसे दुकान में आने वाले ग्राहकों को भी जागरूक करने का आग्रह किया गया। बैठक के दौरान सारनी क्षेत्र के शॉपिंग सेंटर को सिंगल यूज पॉलीथीन मुक्त बनाने का संकल्प भी लिया गया।
नगर पालिका के सभाकक्ष में गुरूवार को शाम 4.30 बजे से उक्त बैठक का आयोजन किया गया। नगर पालिका के स्वच्छता अधिकारी श्री केके भावसार ने बताया कि मध्यप्रदेष राजपत्र पर्यावरण विभाग, मंत्रालय द्वारा मध्यप्रदेष जैव अनाश्य अपषिष्ट (नियंत्रण) अधिनियम 2004 की धारा 3 के माध्यम से अमानक पॉलीथीन के परिवहन, भंडारण, विक्रय और उपयोग पर पूरी तरह से रोक लगाई है। नगरीय निकाय झोला बैंक, कैरी युअर ऑन बैग, निजी क्षेत्रों की भागीदारी जैसे प्रयासों से नागरिकों को जागरूक कर रहा है। इसे लेकर 15 से 30 जुलाई के बीच जनजागरूकता अभियान ”वादा करें…” संचालित किया जा रहा है। गुरूवार को हुई बैठक में सतपुड़ा व्यापारी संघ अध्यक्ष श्री विनय मालवीय, कालीमाई व्यापारी संघ अध्यक्ष श्री रमेश हारोड़े, दिलेर सिंह पतवाल, अशोक कुमार जैन, रवि हेड़ाउ, मनोज कुमार, रंजीत सोनी, अतुल मालवीय, सोनू साहू, रमेश कुमार एवं राजेश बगाहे समेत अन्य लोग उपस्थित थे। संघ के माध्यम से बाजार क्षेत्रों के सभी व्यापारियों को पॉलीथीन का उपयोग नहीं करने के लिए जागरूक करने का आग्रह नगर पालिका द्वारा किया गया। श्री भावसार ने बताया कि बाजारों, सार्वजनिक स्थानों पर नागरिकों को पॉलीथीन के दुष्प्रभावों के लिए नपा अपने स्तर पर नुक्कड़, नाटिका कर जागरूक करेगी। झोला बैंकों को बनाने के लिए प्रोत्साहन दिया जाएगा। उन्होंने व्यापारियों से आग्रह किया कि वे भी अपनी ओर से दुकान में आने वाले ग्राहकों से घर से झोला लाने को कहें या खुद कपड़े या ईको फ्रेंडली झोले उन्हें दें। उन्होंने कहा प्रत्येक दुकानदार अपनी दुकान के बाहर पॉलीथीन का उपयोग नहीं करने के पोस्टर या बोर्ड लगाएं। उन्होंने दुकानों में अमानक पॉलीथीन का उपयोग पूरी तरह रोकने, समारोहों में सिंगल यूज प्लास्टिक थालियां, डिस्पोजल का उपयोग बंद करने का आग्रह किया। इनके स्थानों पर ईको फ्रेंडली अथवा कपड़ों के थैले, पत्तों की पत्राली, स्टील के गिलास का उपयोग किया जा सकता है। श्री भावसार ने बताया कि ”वादा करें…” अभियान को आगामी 15 दिनों तक व्यापाक रूप से संचालित किया जाएगा।