कटनी एन जी टी की रोक के बाद जिले में रेत का अवैध उत्खनन व परिवहन भंडारण का खेल जारी..

Scn news india

संवादाता सुनील यादव कटनी

कटनी -एनजीटी के नियमो को दरकिनार कर महानदी से रेत का अवैध उत्खनन बदस्तूर जारी है…यहां नियमो की धज्जियां उड़ा नदी में पोकलेन जैसी बड़ी-बड़ी मशीने एक नही बल्कि 2 से 3 महानदी में उतरकर रेत निकाल रही है….
कटनी जिले के बड़वारा विधान सभा क्षेत्र के थाना क्षेत्र के लालपुर घाट का यह नजारा है जहां नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के गाईड लाईन और मध्य प्रदेश पर्यावरण सिया की शर्तों की धज्जियां उड़ती नजर आ रही है….
ऐसा ही नजारा हर कही देखा जा सकता है कि कैसे दिन रात में रेत को जे सी बी व पोकलेन से निकाला जा रहा है आप खुद देखिए इस नजारे को जिसमें दो पोकलिन मशीनों के जरिए रैंप बना कर नदी की छाती को छलनी करने का काम किया जा रहा है.. वही विजयराघवगढ़ के ग्राम बरुआ व जंगल पुरैनी में अवैध रूप से रेत का भंडारण किया गया है

विजयराघवगढ़ के ग्राम बरुआ में देख सकते है कि कैसे रेत का भंडारण किया गया है जब कि वहां के लोगो के मुताबिक इस क्षेत्र में न तो कोई रेत खदान दी गई है और ना ही किसी प्रकार से भंडारण की परमिशन है ये रेत का खेल नेता अधिकारी की मिलीभगत से चल रहा
है और विस्टा कम्पनी नियमो को ठेंगा दिखा कर रुपया छापने में लगी है