क्रोध को संयमित करना जरूरी- डी डी उईके

Scn news india

दिलीप पाल 

आमला.प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन काल में दीन दुखियों की मदद का भाव ,सच्चाई, इमानदारी, और सतमार्ग पर चलने की दृढ़ इच्छाशक्ति के साथ जीवन जीना चाहिए। व्यक्ति को अपने क्रोध पर पूर्ण नियंत्रण रखते हुए संयमित जीवन निर्वहन करना चाहिए।यदि क्रोध पर नियंत्रण पा लिया तो इंसान इस श्रृष्टि को नुकसान पहुंचाने वाले आंतरिक भ्रष्टाचार,अनीति, तथा देश को खोखला करने वाले इस रावण को समाप्त कर सकता है। इंसान को सिर्फ पेट और प्रजनन तक ही सीमित नहीं रहना चाहिए।चौरासी लाख योनियों में कीट पतंगे भी अपना पेट भर लेते हैं,यदि मानव जीवन मिला है तो इसे सतमार्ग एवं दीन दुखियों की मदद करने में लगाइए।उक्त उद्गार जिले के सांसद दुर्गादास उईके ने गायत्री नवचेतना केंद्र कुजबा में पौधारोपण के अवसर पर कहे। उन्होंने आगे कहा कि मैं आप लोगों के आशीर्वाद से आज इस मुकाम पर हूं,मैं आपको यह विश्वास दिलाता हूं कि ऐसा कभी नहीं होगा कि मैं आप लोगों को भूल जाऊं।मेरे लोकसभा क्षेत्र में जितने भी गायत्री नवचेतना केंद्र का शुभारंभ हुआ है उनके विकास के लिए मैं सदैव प्रयासरत रहूंगा मैं व्यक्तिगत रूप से भी बहुत पहले से गायत्री परिवार से जुड़ा हुआ हूं तथा इस ओर ध्यान देना मेरी प्रथम प्राथमिकता रहेगी।इस पावन भूमि पर खड़े होकर आप सभी को आश्वस्त करता हूं कि क्षेत्र वासियों को किसी भी तरह की समस्या हो तो आप सीधे मुझसे बिना झिझक मिल सकते, मैं सदैव आपकी सेवा में समर्पित रहूंगा।
रविवार को गायत्री नव चेतना केंद्र कुजबा में सांसद डीडी उईके एवं गायत्री परिवार के जिला कार्यकारिणी सदस्यों द्वारा पौधारोपण का कार्यक्रम आयोजित किया गया। गायत्री नव चेतना केंद्र कुजबा में सांसद एवं गायत्री परिवार द्वारा 5 पौधों का रोपण किया गया। कार्यक्रम में सर्वप्रथम सांसद नव चेतना केंद्र कुजबा पहुंचे जहां पर उन्होंने मां गायत्री के छाया चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर पूजा अर्चना की इसके पश्चात गायत्री नवचेतना केंद्र पुजवा परिसर में फलदार छायादार 5 पौधों का रोपण किया गया इसके पश्चात सभी अतिथियों का गायत्री परिवार कुजबा के कार्यकर्ताओं द्वारा स्वागत किया गया।अतिथियों द्वारा अपने विचारों से आमजन को अवगत कराया,अंत में गायत्री महामंत्र के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया।इस अवसर पर सांसद डीडी उईके, भाजपा जिलाध्यक्ष आदित्य बबला शुक्ला, गायत्री परिवार के जिला समन्वयक श्री कैलाश वर्मा, जिला समन्वय समिति के सचिव रवि शंकर पारखे,उप जोन प्रभारी दीपचंद मालवीय,जिला युवा प्रकोष्ठ के प्रभारी अजय पंवार, जिला पर्यावरण प्रभारी अमोल पानकर,बोरदेही के रमेशलाला सूर्यवंशी, गायत्री चेतना केंद्र कुजबा के मुख्य ट्रस्टी बलवंतराव साबले ,रमेश चिल्हाटे,किसनराव कवड़कर,रामचन्द्र चिल्हाटे, पी.आर.चिल्हाटे, दिनेश चिल्हाटे, सम्पतराव चिल्हाटे, सम्पतराव चड़ोकर,किस्मतराव ठाकरे, मोरखा के वरिष्ठ भाजपा नेता किशन सिंह रघुवंशी,भाजपा जिला मंत्री भगवंत सिंह रघुवंशी, मंडल अध्यक्ष यदुराज रघुवंशी, मंडल अध्यक्ष यशवंत यादव, चंद्रभान वागद्रे,डा.नरेंद्र सूर्यवंशी,योगेश रघुवंशी अतुल पारखे,खेड़ली बाजार के प्रतिष्ठित गल्ला व्यवसाई राजेश कुंभारे,महेश डांगे ठाकुर प्रसाद यदुवंशी,राजीव कामतकर,निलेश घोड़की सहित गायत्री परिवार के सदस्य एवं भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे।