जिले सहित छत्तीसगढ़ राज्य में कांग्रेस सरकार हर मामले में फेल – कमल सोनी

Scn news india

▶️ प्रभारी मंत्री को सुनाई नहीं देना कहना दुर्भाग्यपूर्ण

राजनांदगांव । जिला सहित पूरे प्रदेश में जिस उम्मीद से आम जनता कांग्रेस पार्टी पर भरोसा जताया था, वह भरोसे में कांग्रेस पार्टी जनता के विश्वास पर खरा नहीं उतर पाया जो कांग्रेस पार्टी को अच्छे से मालूम है, भारतीय जनता पार्टी सोशल मीडिया प्रभारी कमल सोनी ने तीखी प्रतिक्रिया करते हुए बताया कि जिले के प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर को जिस प्रकार से हटाया गया उससे तो यह साबित होता है, कि उनके काम से लोग संतुष्ट नहीं थे, जनता और कांग्रेस पार्टी के बीच सही ताल मेल नहीं बैठा पाने के कारण बदला गया उनके जगह नए प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत का जिस प्रकार से कांग्रेसियों ने स्वागत किया पुराने प्रभारी मंत्री जाने का उत्साह था, कि नए प्रभारी मंत्री के आने का उत्साह था इस स्वागत सत्कार में कांग्रेसियों द्वारा जिस प्रकार कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया गया उसकी सोशल मीडिया और प्रिंट मीडिया में खूब निंदा हुई। श्री सोनी ने आगे बताया कि इसके पहले आबकारी मंत्री कवासी लखमा जी डोंगरगढ़ पवित्र स्थान पर जाकर मछली खाते हैं, और मछली का कांटा उनके मुंह में फस जाता है, डोंगरगढ़ पवित्र स्थान पर जाकर नए प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत से जब पत्रकारों ने अवैध शराब के विषय में जब सवाल पूछा गया तो प्रभारी मंत्री का यह कहना कि मुझे कुछ सुनाई नहीं दिया यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है, जनता कांग्रेस पार्टी से जानना चाहते हैं, कि ढाई साल में प्रभारी मंत्री जिले में जिला प्रशासन सहित अपने ही सरकार की योजनाओं को धरातल पर पहुंचाने में असफल व आम जनता का विश्वास जीत नहीं पाया ना ही विकास कर पाया ना ही भरोसे के लायक बन पाया, जिला सहित छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी लोगों का विश्वास खत्म हो रहा है, जनता समझ रही है, कि कांग्रेस झूठे वादे करके सत्ता में आई है, आज कांग्रेसी सरकार की स्थिति ऐसी हो गई है, कि अपने किए हुए झूठे वादों के कारण आम जनता को जवाब देने की स्थिति में नहीं है, और जब पत्रकारों के द्वारा सवाल किया जाता है, तो सुनाई नहीं दिया कह के चले जाते हैं, आगामी विधानसभा चुनाव में जब यह जनता के बीच जाएंगे तब जनता को इनकी कोई बातें सुनाई नहीं देंगे और ना ही दिखाई देंगे इससे साफ जाहिर होता है, कि जनता के विश्वास पर कांग्रेस पार्टी खरा उतरने में असफल सरकार साबित हो गया है, जिले के प्रभारी मंत्री बदलने से क्या जिले में विकास और जनता पर भरोसा हो पाएगा जो ढाई साल पर अपने योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने में असफल है, क्योंकि योजना का सही क्रियानवन के लिए जिला प्रशासन व नगर प्रशासन के अधिकारी और कर्मचारी का अहम भूमिका रहता है, और अधिकारी कर्मचारी शासन की रीड का हड्डी है, लेकिन छत्तीसगढ़ में जब से कांग्रेस पार्टी सत्ता मे आई है, तब से आम जनता परेशान है, विकास कार्य पुरा ढप्प पड़े हुए हैं, भारतीय जनता पार्टी के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के नेतृत्व में जितने भी विकास कार्य हुए हैं, उन्हीं का उद्घाटन और भूमि पूजन करने में ढाई साल तक समय बिता दिए है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार जनता से जो 36 वादे अपने घोषणा पत्र में किए हैं, उसको जल्द से जल्द पूरा करें।