अजयगढ़ सहकारी बैंक के कर्मचारी सातवें वेतनमान की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

Scn news india

मोहम्मद आज़ाद 

अजयगढ़ सहकारी केंद्रीय बैंक कर्मचारी यूनियन द्वारा पूर्व निर्धारित कार्यक्रम अनुसार 1 जुलाई 2021 से जिले के समस्त सहकारी बैंक कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए जिसके कारण मुख्य बैंक सहित जिले की सभी 10 शाखाएं बंद रही, इस दौरान किसान एवं अमानतदारों को परेशान होते देखा गया, प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला सहकारी केंद्रीय बैंक पन्ना के कर्मचारियों को अभी तक सातवें वेतनमान का लाभ नहीं मिला है विगत दिनों बैंक द्वारा कर्मचारियों को सातवें वेतनमान का लाभ दिए जाने हेतु प्रस्ताव तैयार कर अनुमोदन हेतु आयुक्त सहकारिता एवं पंजीयक सहकारी संस्थाएं भोपाल की ओर भेजा गया था जहां आयुक्त सहकारिता द्वारा उक्त प्रस्ताव को एकतरफा अमान्य कर सातवें वेतनमान की अनुमति प्रदान नहीं की गई जिससे कर्मचारियों में रोष व्याप्त है एवं उक्त पंजीयक की कार्रवाई के विरुद्ध कर्मचारियों ने 16 जून 2021 को ज्ञापन सौंपकर अपनी मांग रखी थी समय सीमा में निराकरण नहीं होने पर कर्मचारियों द्वारा 1 जुलाई से अनिश्चितकालीन हड़ताल प्रारंभ कर दी गई है, यूनियन के पदाधिकारियों अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव, महामंत्री जेएन पाठक ने बताया कि अधिकांश जिला बैंक के कर्मचारियों को सातवें वेतनमान का लाभ दिया जा चुका है पर पन्ना के कर्मचारियों के साथ भेदभाव पूर्ण व्यवहार किया जा रहा है संगठन द्वारा मुख्य रूप से 2 मागें रखी गई हैं पहली सातवें वेतनमान की एवं दूसरी मांग वर्ष 2003 से संविदा में पदस्थ समिति प्रबंधकों को नियमितीकरण किए जाने की है उन्होंने बताया कि दोनों मांगे पूर्ण नहीं होने तक हड़ताल जारी रहेगी इस दौरान किसानों एवं अमानतदारों को होने वाले नुकसान के जिम्मेदार आयुक्त सहकारिता एवं बैंक प्रशासन होगा,